Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#18 Trending Author

अक्षय तृतीया

पुण्य कार्य की अक्षय फल दाता, मंगल शुभ अक्षय तृतीया है
शुभ कार्यों का शुभ मुहूर्त,मंगलमयी अक्षय तृतीया है
जप तप दान के संचय की, मंगलमय अक्षय तृतीया है
सबसे श्रेष्ठ दान जग में,अक्षय तृतीया प्रेरित करती है
मानवता के लिए श्रेष्ठ, रचने को उद्धत रहती है
अक्षय पुण्य अक्षय उर्जा, शुभ कर्मों की शुरुआत है
पर स्वार्थ में जगने की, बहुत बड़ी सौगात है
परहित समान ना धर्म कोई, पर पीड़ा हरने की बात है
यही अक्षय भंडार परम धन, नहीं धन-संपत्ति संचय की बात है

सुरेश कुमार चतुर्वेदी

1 Like · 75 Views
You may also like:
🌺🌺दोषदृष्टया: साधके प्रभावः🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पिता:सम्पूर्ण ब्रह्मांड
Jyoti Khari
मेरी जिन्दगी से।
Taj Mohammad
कविता में मुहावरे
Ram Krishan Rastogi
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
उनकी आमद हुई।
Taj Mohammad
सारे द्वार खुले हैं हमारे कोई झाँके तो सही
Vivek Pandey
रेलगाड़ी- ट्रेनगाड़ी
Buddha Prakash
'मेरी यादों में अब तक वे लम्हे बसे'
Rashmi Sanjay
मुझसे बचकर वह अब जायेगा कहां
Ram Krishan Rastogi
महाभारत की नींव
ओनिका सेतिया 'अनु '
ज़रा सी देर में सूरज निकलने वाला है
Dr. Sunita Singh
पितृ ऋण
Shyam Sundar Subramanian
भारतीय संस्कृति के सेतु आदि शंकराचार्य
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
हम भारत के लोग
Mahender Singh Hans
गीत... कौन है जो
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
*अंतिम प्रणाम ..अलविदा #डॉ_अशोक_कुमार_गुप्ता* (संस्मरण)
Ravi Prakash
अथर्व को जन्म दिन की शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Un-plucked flowers
Aditya Prakash
श्री अग्रसेन भागवत ः पुस्तक समीक्षा
Ravi Prakash
कलम
AMRESH KUMAR VERMA
इन्द्रवज्रा छंद (शिवेंद्रवज्रा स्तुति)
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
मुकरियां_ गिलहरी
Manu Vashistha
बचे जो अरमां तुम्हारे दिल में
Ram Krishan Rastogi
वतन से यारी....
Dr. Alpa H. Amin
पीयूष छंद-पिताजी का योगदान
asha0963
खोलो मन की सारी गांठे
Saraswati Bajpai
बेपनाह गम था।
Taj Mohammad
खोकर के अपनो का विश्वास ।......(भाग- 2)
Buddha Prakash
लिख लेते हैं थोड़ा थोड़ा
सूर्यकांत द्विवेदी
Loading...