Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Mar 2023 · 1 min read

Tumko pane ki hasrat hi to thi ,

Tumko pane ki hasrat hi to thi ,
Tamannaye tumne bana di .
Dilo ki bagano me ek ful hi to khilana tha
Tumne meri puri kaynat saja di 😍
By sakshi

61 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
शौक़ इनका भी
शौक़ इनका भी
Dr fauzia Naseem shad
*टिकटों का संग्राम 【कुंडलिया】*
*टिकटों का संग्राम 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
प्यार में
प्यार में
श्याम सिंह बिष्ट
#एक_सराहनीय_पहल
#एक_सराहनीय_पहल
*Author प्रणय प्रभात*
पसोपेश,,,उमेश के हाइकु
पसोपेश,,,उमेश के हाइकु
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
ग़ज़ल -
ग़ज़ल -
Mahendra Narayan
चार दिनों की जिंदगी है, यूँ हीं गुज़र के रह जानी है...!!
चार दिनों की जिंदगी है, यूँ हीं गुज़र के रह जानी है...!!
Ravi Malviya
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
फिर से सतयुग भू पर लाओ
फिर से सतयुग भू पर लाओ
AJAY AMITABH SUMAN
कन्यादान
कन्यादान
Shekhar Chandra Mitra
जिंदगी एक किराये का घर है।
जिंदगी एक किराये का घर है।
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
हूं तो इंसान लेकिन बड़ा वे हया
हूं तो इंसान लेकिन बड़ा वे हया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
एतबार पर आया
एतबार पर आया
Dr. Sunita Singh
बिस्तर से आशिकी
बिस्तर से आशिकी
Buddha Prakash
💐इश्क़ में फ़क़्र होना भी शर्त है💐
💐इश्क़ में फ़क़्र होना भी शर्त है💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
नन्हे बाल गोपाल के पाच्छे मैया यशोदा दौड़ लगाये.....
नन्हे बाल गोपाल के पाच्छे मैया यशोदा दौड़ लगाये.....
Ram Babu Mandal
वट सावित्री व्रत
वट सावित्री व्रत
Shashi kala vyas
बेशक़ कमियाँ मुझमें निकाल
बेशक़ कमियाँ मुझमें निकाल
सिद्धार्थ गोरखपुरी
शहर
शहर
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
#drarunkumarshastriblogger
#drarunkumarshastriblogger
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चाहे जितना तू कर निहां मुझको
चाहे जितना तू कर निहां मुझको
Anis Shah
दंभ हरा
दंभ हरा
Arti Bhadauria
दिल की बात,
दिल की बात,
Pooja srijan
"जाति"
Dr. Kishan tandon kranti
कदम चुप चाप से आगे बढ़ते जाते है
कदम चुप चाप से आगे बढ़ते जाते है
Dr.Priya Soni Khare
21-हिंदी दोहा दिवस , विषय-  उँगली   / अँगुली
21-हिंदी दोहा दिवस , विषय- उँगली / अँगुली
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
शायरी
शायरी
goutam shaw
लाश लिए फिरता हूं
लाश लिए फिरता हूं
Ravi Ghayal
बाल चुभे तो पत्नी बरसेगी बन गोला/आकर्षण से मार कांच का दिल है भामा
बाल चुभे तो पत्नी बरसेगी बन गोला/आकर्षण से मार कांच का दिल है भामा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
बहुत याद आती है
बहुत याद आती है
नन्दलाल सुथार "राही"
Loading...