Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 Mar 2023 · 1 min read

Tumhari khubsurat akho ne ham par kya asar kiya,

Tumhari khubsurat akho ne ham par kya asar kiya,
Usne dekha hame ek bar , hmne bus usi ko dekhne ka vachan de diya😍 .
By sakshi

1 Like · 1 Comment · 102 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
#लघुकथा
#लघुकथा
*Author प्रणय प्रभात*
वयम् संयम
वयम् संयम
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
कह दो ना उस मौत से अपने घर चली जाये,
कह दो ना उस मौत से अपने घर चली जाये,
Sarita Pandey
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
"मछली और भालू"
Dr. Kishan tandon kranti
परिवर्तन विकास बेशुमार
परिवर्तन विकास बेशुमार
Tarun Prasad
FORGIVE US (Lamentations of an ardent lover of nature over the pitiable plight of “Saranda” Forest.)
FORGIVE US (Lamentations of an ardent lover of nature over the pitiable plight of “Saranda” Forest.)
Awadhesh Kumar Singh
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
अपना जीवन पराया जीवन
अपना जीवन पराया जीवन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तेरे बिन
तेरे बिन
Kamal Deependra Singh
कविता-मरते किसान नहीं, मर रही हमारी आत्मा है।
कविता-मरते किसान नहीं, मर रही हमारी आत्मा है।
Shyam Pandey
If life is a dice,
If life is a dice,
DrChandan Medatwal
सृष्टि
सृष्टि
DR ARUN KUMAR SHASTRI
यादें 🥀🌔
यादें 🥀🌔
Skanda Joshi
हिन्दी दोहे- सलाह
हिन्दी दोहे- सलाह
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
एक अच्छी हीलर, उपचारक होती हैं स्त्रियां
एक अच्छी हीलर, उपचारक होती हैं स्त्रियां
Manu Vashistha
दोहे एकादश....
दोहे एकादश....
डॉ.सीमा अग्रवाल
धंधा चोखा जानिए, राजनीति का काम( कुंडलिया)
धंधा चोखा जानिए, राजनीति का काम( कुंडलिया)
Ravi Prakash
तितली रानी
तितली रानी
Vishnu Prasad 'panchotiya'
चंद अशआर -ग़ज़ल
चंद अशआर -ग़ज़ल
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
हम ये कैसा मलाल कर बैठे
हम ये कैसा मलाल कर बैठे
Dr fauzia Naseem shad
💐प्रेम कौतुक-299💐
💐प्रेम कौतुक-299💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
سیکھ لو
سیکھ لو
Ahtesham Ahmad
शमा से...!!!
शमा से...!!!
Kanchan Khanna
कौन है जो तुम्हारी किस्मत में लिखी हुई है
कौन है जो तुम्हारी किस्मत में लिखी हुई है
कवि दीपक बवेजा
हमें भी देख जिंदगी,पड़े हैं तेरी राहों में।
हमें भी देख जिंदगी,पड़े हैं तेरी राहों में।
Surinder blackpen
चरित्रार्थ होगा काल जब, निःशब्द रह तू जायेगा।
चरित्रार्थ होगा काल जब, निःशब्द रह तू जायेगा।
Manisha Manjari
वास्तविक प्रकाशक
वास्तविक प्रकाशक
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
इन्तजार है हमको एक हमसफर का।
इन्तजार है हमको एक हमसफर का।
Taj Mohammad
वक्त से वकालत तक
वक्त से वकालत तक
Vishal babu (vishu)
Loading...