Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Mar 2024 · 1 min read

it is not about having a bunch of friends

it is not about having a bunch of friends
it is about having the right friends

quality always beat quantity

would you rather have a bunch of fair weather friends who bail on you when things get tough , or a select few who ride or die with you through thick and think?

The latter(I hope)
it is not about how many people you know it is about the depth of connection you share with the ones who truly matter.
you want friend who lift you up , inspire you to be your best self .
no drag you down with drama and negativity

chose quality

85 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
प्रिय भतीजी के लिए...
प्रिय भतीजी के लिए...
डॉ.सीमा अग्रवाल
बुंदेली दोहा- छला (अंगूठी)
बुंदेली दोहा- छला (अंगूठी)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
गीत// कितने महंगे बोल तुम्हारे !
गीत// कितने महंगे बोल तुम्हारे !
Shiva Awasthi
सही ट्रैक क्या है ?
सही ट्रैक क्या है ?
Sunil Maheshwari
' जो मिलना है वह मिलना है '
' जो मिलना है वह मिलना है '
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
पिता दिवस
पिता दिवस
Neeraj Agarwal
*मुझे गाँव की मिट्टी,याद आ रही है*
*मुझे गाँव की मिट्टी,याद आ रही है*
sudhir kumar
हो गये अब हम तुम्हारे जैसे ही
हो गये अब हम तुम्हारे जैसे ही
gurudeenverma198
"सरल गणित"
Dr. Kishan tandon kranti
मतदान जरूरी है - हरवंश हृदय
मतदान जरूरी है - हरवंश हृदय
हरवंश हृदय
कस्तूरी इत्र
कस्तूरी इत्र
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
देह अधूरी रूह बिन, औ सरिता बिन नीर ।
देह अधूरी रूह बिन, औ सरिता बिन नीर ।
Arvind trivedi
दुआ नहीं होना
दुआ नहीं होना
Dr fauzia Naseem shad
*मूॅंगफली स्वादिष्ट, सर्वजन की यह मेवा (कुंडलिया)*
*मूॅंगफली स्वादिष्ट, सर्वजन की यह मेवा (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
ज़ख़्म ही देकर जाते हो।
ज़ख़्म ही देकर जाते हो।
Taj Mohammad
Irritable Bowel Syndrome
Irritable Bowel Syndrome
Tushar Jagawat
भाई दोज
भाई दोज
Ram Krishan Rastogi
आहिस्था चल जिंदगी
आहिस्था चल जिंदगी
Rituraj shivem verma
महायज्ञ।
महायज्ञ।
Acharya Rama Nand Mandal
तेरे होने का जिसमें किस्सा है
तेरे होने का जिसमें किस्सा है
shri rahi Kabeer
लाल उठो!!
लाल उठो!!
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
कान में रखना
कान में रखना
Kanchan verma
2480.पूर्णिका
2480.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
"" *माँ सरस्वती* ""
सुनीलानंद महंत
#दोहा
#दोहा
*प्रणय प्रभात*
अरमान
अरमान
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
खुद को इतना मजबूत बनाइए कि लोग आपसे प्यार करने के लिए मजबूर
खुद को इतना मजबूत बनाइए कि लोग आपसे प्यार करने के लिए मजबूर
ruby kumari
दहलीज़ पराई हो गई जब से बिदाई हो गई
दहलीज़ पराई हो गई जब से बिदाई हो गई
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
💐 *दोहा निवेदन*💐
💐 *दोहा निवेदन*💐
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
सलीका शब्दों में नहीं
सलीका शब्दों में नहीं
उमेश बैरवा
Loading...