Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Apr 2023 · 1 min read

Hum bhi rang birange phoolo ki tarah hote

Hum bhi rang birange phoolo ki tarah hote
To kya gam tha.
Bus ek baure ke intajar me
Taumar to nhi gujarni padti hame😍 by sakshi

1 Like · 339 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*आया फिर से देश में, नूतन आम चुनाव (कुंडलिया)*
*आया फिर से देश में, नूतन आम चुनाव (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
"राष्टपिता महात्मा गांधी"
Pushpraj Anant
कहानी- 'भूरा'
कहानी- 'भूरा'
Pratibhasharma
वक्त का इंतजार करो मेरे भाई
वक्त का इंतजार करो मेरे भाई
Yash mehra
हिंदू धर्म आ हिंदू विरोध।
हिंदू धर्म आ हिंदू विरोध।
Acharya Rama Nand Mandal
सब दिन होते नहीं समान
सब दिन होते नहीं समान
जगदीश लववंशी
रिश्ते
रिश्ते
Mamta Rani
कविता
कविता
Neelam Sharma
"अस्थिरं जीवितं लोके अस्थिरे धनयौवने |
Mukul Koushik
कसूर उनका नहीं मेरा ही था,
कसूर उनका नहीं मेरा ही था,
Vishal babu (vishu)
मुश्किलों में उम्मीद यूँ मुस्कराती है
मुश्किलों में उम्मीद यूँ मुस्कराती है
VINOD CHAUHAN
होलिडे-होली डे / MUSAFIR BAITHA
होलिडे-होली डे / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
किया पोषित जिन्होंने, प्रेम का वरदान देकर,
किया पोषित जिन्होंने, प्रेम का वरदान देकर,
Ravi Yadav
■ सवालिया शेर-
■ सवालिया शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
*.....उन्मुक्त जीवन......
*.....उन्मुक्त जीवन......
Naushaba Suriya
शिष्टाचार के दीवारों को जब लांघने की चेष्टा करते हैं ..तो दू
शिष्टाचार के दीवारों को जब लांघने की चेष्टा करते हैं ..तो दू
DrLakshman Jha Parimal
Rap song 【4】 - पटना तुम घुमाया
Rap song 【4】 - पटना तुम घुमाया
Nishant prakhar
अपने  ही  हाथों  से अपना, जिगर जलाए बैठे हैं,
अपने ही हाथों से अपना, जिगर जलाए बैठे हैं,
Ashok deep
🌹खूबसूरती महज....
🌹खूबसूरती महज....
Dr Shweta sood
फिर एक बार 💓
फिर एक बार 💓
Pallavi Rani
बहुत दिनों के बाद मिले हैं हम दोनों
बहुत दिनों के बाद मिले हैं हम दोनों
Shweta Soni
संदेशा
संदेशा
manisha
रखो अपेक्षा ये सदा,  लक्ष्य पूर्ण हो जाय
रखो अपेक्षा ये सदा, लक्ष्य पूर्ण हो जाय
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
2938.*पूर्णिका*
2938.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
दोहावली
दोहावली
आर.एस. 'प्रीतम'
हैं राम आये अवध  में  पावन  हुआ  यह  देश  है
हैं राम आये अवध में पावन हुआ यह देश है
Anil Mishra Prahari
अच्छा कार्य करने वाला
अच्छा कार्य करने वाला
नेताम आर सी
"रामगढ़ की रानी अवंतीबाई लोधी"
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
पीड़ित करती न तलवार की धार उतनी जितनी शब्द की कटुता कर जाती
पीड़ित करती न तलवार की धार उतनी जितनी शब्द की कटुता कर जाती
Sukoon
11. एक उम्र
11. एक उम्र
Rajeev Dutta
Loading...