Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Jan 2024 · 1 min read

Dr arun kumar shastri

Dr arun kumar shastri
अच्छी बुरी अनुभूतियां कब नहीं थी तब भी थी जब हम छोटे थे या युवा थे और आज भी हैं जब हम उम्र दराज हो चुके हैं । लेकिन तब इतना भय नहीं लगता था उन बुरी अनुभूतियों से जितना अब लगता है इस उम्र में ।

50 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
Meri Jung Talwar se nahin hai
Meri Jung Talwar se nahin hai
Ankita Patel
3265.*पूर्णिका*
3265.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
*सेब (बाल कविता)*
*सेब (बाल कविता)*
Ravi Prakash
इतनी उदासी और न पक्षियों का घनेरा
इतनी उदासी और न पक्षियों का घनेरा
Charu Mitra
■ क़तआ (मुक्तक)
■ क़तआ (मुक्तक)
*Author प्रणय प्रभात*
भगवान
भगवान
Anil chobisa
" गुरु का पर, सम्मान वही है ! "
Saransh Singh 'Priyam'
आत्म संयम दृढ़ रखों, बीजक क्रीड़ा आधार में।
आत्म संयम दृढ़ रखों, बीजक क्रीड़ा आधार में।
Er.Navaneet R Shandily
जिनके होंठों पर हमेशा मुस्कान रहे।
जिनके होंठों पर हमेशा मुस्कान रहे।
Phool gufran
कविता के अ-भाव से उपजी एक कविता / MUSAFIR BAITHA
कविता के अ-भाव से उपजी एक कविता / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
"बेरंग शाम का नया सपना" (A New Dream on a Colorless Evening)
Sidhartha Mishra
दीपावली २०२३ की हार्दिक शुभकामनाएं
दीपावली २०२३ की हार्दिक शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
माह -ए -जून में गर्मी से राहत के लिए
माह -ए -जून में गर्मी से राहत के लिए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
जनाजे में तो हम शामिल हो गए पर उनके पदचिन्हों पर ना चलके अपन
जनाजे में तो हम शामिल हो गए पर उनके पदचिन्हों पर ना चलके अपन
DrLakshman Jha Parimal
💐प्रेम कौतुक-356💐
💐प्रेम कौतुक-356💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जुदाई का एहसास
जुदाई का एहसास
प्रदीप कुमार गुप्ता
आपकी मुस्कुराहट बताती है फितरत आपकी।
आपकी मुस्कुराहट बताती है फितरत आपकी।
Rj Anand Prajapati
लिख रहा हूं कहानी गलत बात है
लिख रहा हूं कहानी गलत बात है
कवि दीपक बवेजा
"फितूर"
Dr. Kishan tandon kranti
मुद्दतों बाद फिर खुद से हुई है, मोहब्बत मुझे।
मुद्दतों बाद फिर खुद से हुई है, मोहब्बत मुझे।
Manisha Manjari
तन्हाई
तन्हाई
Surinder blackpen
To be Invincible,
To be Invincible,
Dhriti Mishra
मोहब्बत मुकम्मल हो ये ज़रूरी तो नहीं...!!!!
मोहब्बत मुकम्मल हो ये ज़रूरी तो नहीं...!!!!
Jyoti Khari
ये तो मुहब्बत में
ये तो मुहब्बत में
Shyamsingh Lodhi (Tejpuriya)
वक़्त को गुज़र
वक़्त को गुज़र
Dr fauzia Naseem shad
मेला
मेला
Dr.Priya Soni Khare
हाइकु (#हिन्दी)
हाइकु (#हिन्दी)
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
ना हो अपनी धरती बेवा।
ना हो अपनी धरती बेवा।
Ashok Sharma
लोककवि रामचरन गुप्त के रसिया और भजन
लोककवि रामचरन गुप्त के रसिया और भजन
कवि रमेशराज
आया होली का त्यौहार
आया होली का त्यौहार
Ram Krishan Rastogi
Loading...