Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Jul 2023 · 1 min read

Dr Arun Kumar shastri

Dr Arun Kumar shastri
🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️🏵️

“चालाकी,चतुराई,मतलब”
के मिश्रण को आजकल
“होशियारी” कहते है।। 🙏

🪷🪷🪷🪷🪷🪷🪷🪷🪷

302 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
मैं तो महज आग हूँ
मैं तो महज आग हूँ
VINOD CHAUHAN
আজকের মানুষ
আজকের মানুষ
Ahtesham Ahmad
💐प्रेम कौतुक-329💐
💐प्रेम कौतुक-329💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रेत घड़ी / मुसाफ़िर बैठा
रेत घड़ी / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
हर महीने में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि
हर महीने में कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मासिक शिवरात्रि
Shashi kala vyas
ज़िंदा हो ,ज़िंदगी का कुछ तो सबूत दो।
ज़िंदा हो ,ज़िंदगी का कुछ तो सबूत दो।
Khem Kiran Saini
दोहा
दोहा
Ravi Prakash
चल रे घोड़े चल
चल रे घोड़े चल
Dr. Kishan tandon kranti
परछाई
परछाई
Dr Parveen Thakur
गोस्वामी तुलसीदास
गोस्वामी तुलसीदास
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
मेरी एक सहेली है
मेरी एक सहेली है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
23/169.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/169.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
दिन आज आखिरी है, खत्म होते साल में
दिन आज आखिरी है, खत्म होते साल में
gurudeenverma198
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मकर संक्रांति
मकर संक्रांति
Mamta Rani
पूर्ण-अपूर्ण
पूर्ण-अपूर्ण
Srishty Bansal
मोर
मोर
Manu Vashistha
कहीं वैराग का नशा है, तो कहीं मन को मिलती सजा है,
कहीं वैराग का नशा है, तो कहीं मन को मिलती सजा है,
Manisha Manjari
उसने आंखों में
उसने आंखों में
Dr fauzia Naseem shad
Maine apne samaj me aurto ko tutate dekha hai,
Maine apne samaj me aurto ko tutate dekha hai,
Sakshi Tripathi
फेर रहे हैं आंख
फेर रहे हैं आंख
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
नेताम आर सी
- फुर्सत -
- फुर्सत -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
पूर्णिमा का चाँद
पूर्णिमा का चाँद
Neeraj Agarwal
जो जुल्फों के साये में पलते हैं उन्हें राहत नहीं मिलती।
जो जुल्फों के साये में पलते हैं उन्हें राहत नहीं मिलती।
Phool gufran
प्रदर्शन
प्रदर्शन
Sanjay ' शून्य'
शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसंपदा।
शुभं करोति कल्याणं आरोग्यं धनसंपदा।
Anil "Aadarsh"
"किस किस को वोट दूं।"
Dushyant Kumar
मक्खन बाजी
मक्खन बाजी
Dr. Pradeep Kumar Sharma
मेरा तुझसे मिलना, मिलकर इतना यूं करीब आ जाना।
मेरा तुझसे मिलना, मिलकर इतना यूं करीब आ जाना।
AVINASH (Avi...) MEHRA
Loading...