Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Nov 2023 · 1 min read

Dr arun कुमार शास्त्री

Dr arun कुमार शास्त्री
आपने सोचा भी न होगा आपकी वाणी में आपके शब्दों में कितनी क्षमता छुपी है । विचार कीजिये एक हताश व्यक्ति आपसे सहारा मांगता है आप उसे कुछ भी देने में असमर्थ हैं । लेकिन फिर भी उसको आप अपने विवेक अनुसार अपनी बेहतरीन सलाह देते हैं।
मात्र एक अच्छी सलाह। और वो चला जाता हैं विचार करता है आपकी सलाह पर। और उसका जीवन हताशा से बाहर आ जाता है। वो आपको फिर कभी नहीं मिलता मगर आपकी सलाह सदैव उसका मार्ग प्रशस्त करती रहती है ।

2 Likes · 452 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
💐प्रेम कौतुक-393💐
💐प्रेम कौतुक-393💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
शून्य
शून्य
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
खेल और भावना
खेल और भावना
Mahender Singh
जब भी आप निराशा के दौर से गुजर रहे हों, तब आप किसी गमगीन के
जब भी आप निराशा के दौर से गुजर रहे हों, तब आप किसी गमगीन के
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जरा सी गलतफहमी पर
जरा सी गलतफहमी पर
Vishal babu (vishu)
क्रव्याद
क्रव्याद
Mandar Gangal
Charlie Chaplin truly said:
Charlie Chaplin truly said:
Vansh Agarwal
2324.पूर्णिका
2324.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
कांधा होता हूं
कांधा होता हूं
Dheerja Sharma
श्रावणी हाइकु
श्रावणी हाइकु
Dr. Pradeep Kumar Sharma
🙏😊🙏
🙏😊🙏
Neelam Sharma
हे देश मेरे
हे देश मेरे
Satish Srijan
सिंहावलोकन घनाक्षरी*
सिंहावलोकन घनाक्षरी*
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ਦਿਲ  ਦੇ ਦਰਵਾਜੇ ਤੇ ਫਿਰ  ਦੇ ਰਿਹਾ ਦਸਤਕ ਕੋਈ ।
ਦਿਲ ਦੇ ਦਰਵਾਜੇ ਤੇ ਫਿਰ ਦੇ ਰਿਹਾ ਦਸਤਕ ਕੋਈ ।
Surinder blackpen
પૃથ્વી
પૃથ્વી
Otteri Selvakumar
खामोश रहना ही जिंदगी के
खामोश रहना ही जिंदगी के
ओनिका सेतिया 'अनु '
फितरत आपकी जैसी भी हो
फितरत आपकी जैसी भी हो
Arjun Bhaskar
-बहुत देर कर दी -
-बहुत देर कर दी -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
रिश्तों का एक उचित मूल्य💙👭👏👪
रिश्तों का एक उचित मूल्य💙👭👏👪
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
ज़िंदगी क्या है ?
ज़िंदगी क्या है ?
Dr fauzia Naseem shad
"वाह रे जमाना"
Dr. Kishan tandon kranti
#एक_गजल
#एक_गजल
*Author प्रणय प्रभात*
आप की असफलता में पहले आ शब्द लगा हुआ है जिसका विस्तृत अर्थ ह
आप की असफलता में पहले आ शब्द लगा हुआ है जिसका विस्तृत अर्थ ह
Rj Anand Prajapati
बच्चे को उपहार ना दिया जाए,
बच्चे को उपहार ना दिया जाए,
Shubham Pandey (S P)
अच्छा खाना
अच्छा खाना
Dr. Reetesh Kumar Khare डॉ रीतेश कुमार खरे
आदिपुरुष फ़िल्म
आदिपुरुष फ़िल्म
Dr Archana Gupta
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Fuzail Sardhanvi
* संस्कार *
* संस्कार *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ/ दैनिक रिपोर्ट*
*संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ/ दैनिक रिपोर्ट*
Ravi Prakash
कुछ तो बात है मेरे यार में...!
कुछ तो बात है मेरे यार में...!
Srishty Bansal
Loading...