Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Feb 2024 · 2 min read

8) “चन्द्रयान भारत की शान”

आँखों के सपने नहीं हुए चूर,
चंदा मामा अब बिलकुल नहीं दूर।
भारत की जीत हुई जो भरपूर,
चमक रहा इसरो का सुरूर।
देखो देखो….
वैज्ञानिकों का दिख रहा चन्द्रयान नूर👏👏
जय भारत 🇮🇳🇮🇳 जय विज्ञान।।

चन्द्रयान ने लहराया भारत का तिरंगा,
दुनिया में बज रहा चन्द्रयान पर डंका।
ख़्वाब था देखा धरती पर,नहीं रहा अधूरा,
आख़िर चाँद पर पहुँच कर हुआ सपना पूरा।

देखो और देखा हम सब ने…अविरल हुआ वह पल,
विक्रम ने पहुँच कर,छू लिया,चंदा मामा,तेरा तल।
लैंडर विक्रम, रोवर प्रज्ञान,चन्द्र यान 3 ko
देख लो चाँद😊
विज्ञान शक्ति की हो रही है खूब पहचान।
सुहाना भ्रम था जो तुम्हारा, टूट रहा सारा,
अब दुनिया नहीं रहेगी विज्ञान से अनजान।
जय भारत 🇮🇳🇮🇳जय विज्ञान।।

देखो देखो… वैज्ञानिक हैं न्यारे,नहीं हैं हारे।
कैसा अदभुत काम है किया,
दिन और रात जुटे रहे सारे।
चंदा मामा अब नहीं रहे दूर के,
पास आ गये हम ग़ुरूर से।
भारत का हुआ मान और सम्मान,
जय भारत 🇮🇳🇮🇳जय विज्ञान।।

नई पीढ़ी हुई है जागृत
भारत का गौरव बढ़ायेंगे,
चाँद का अदभुत यह सफ़र,
कभी न भूल पायेंगे।
बच्चे, बज़ुर्ग देखे,विज्ञान का कमाल,
भारत की शान,मान और सम्मान।
जय भारत जय विज्ञान।।

“शक्ति यह भारी,जीत है करारी,
जी जान से की थी हमने तैयारी।
माना…
मिलों का था फ़ासला, सफ़र था लम्बा,
नहीं हारा हौंसला, गाड़ दिया झण्डा।
नींद को लगाया दाँव पर,
सफल बनाया मिशन वहाँ आ कर।

चंदा मामा हमने अपना बना ही लिया,
चंद्रयान को सतह पर पहुँचा ही दिया।
40 दिनों की दूर यात्रा की लैंडिंग को,
सफल इसरो ने करवा ही दिया।
जय भारत🇮🇳🇮🇳जय हिंदुस्तान
“ज्ञान संग विज्ञान”

“न रुका हूँ न रुका था…
चेहरा हूँ भारत का,
निखरा था और निखर कर रहूँगा।।

✍🏻स्व-रचित/मौलिक
सपना अरोरा।

Language: Hindi
85 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
■ आज की राय
■ आज की राय
*Author प्रणय प्रभात*
🌹ओ साहिब जी,तुम मेरे दिल में जँचे हो🌹
🌹ओ साहिब जी,तुम मेरे दिल में जँचे हो🌹
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कल पर कोई काम न टालें
कल पर कोई काम न टालें
महेश चन्द्र त्रिपाठी
धनमद
धनमद
Sanjay ' शून्य'
23/173.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/173.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कितना और बदलूं खुद को
कितना और बदलूं खुद को
Er. Sanjay Shrivastava
मचले छूने को आकाश
मचले छूने को आकाश
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
मुक्तक
मुक्तक
दुष्यन्त 'बाबा'
क्रूरता की हद पार
क्रूरता की हद पार
Mamta Rani
जो बीत गयी सो बीत गई जीवन मे एक सितारा था
जो बीत गयी सो बीत गई जीवन मे एक सितारा था
Rituraj shivem verma
जो व्यक्ति अपने मन को नियंत्रित कर लेता है उसको दूसरा कोई कि
जो व्यक्ति अपने मन को नियंत्रित कर लेता है उसको दूसरा कोई कि
Rj Anand Prajapati
कश्मीरी पण्डितों की रक्षा में कुर्बान हुए गुरु तेगबहादुर
कश्मीरी पण्डितों की रक्षा में कुर्बान हुए गुरु तेगबहादुर
कवि रमेशराज
सबका नपा-तुला है जीवन, सिर्फ नौकरी प्यारी( मुक्तक )
सबका नपा-तुला है जीवन, सिर्फ नौकरी प्यारी( मुक्तक )
Ravi Prakash
हिचकियां
हिचकियां
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
रे ! मेरे मन-मीत !!
रे ! मेरे मन-मीत !!
Ramswaroop Dinkar
क्यूँ ना करूँ शुक्र खुदा का
क्यूँ ना करूँ शुक्र खुदा का
shabina. Naaz
तुम्हें कब ग़ैर समझा है,
तुम्हें कब ग़ैर समझा है,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
साधना
साधना
Vandna Thakur
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
एक नेता
एक नेता
पंकज कुमार कर्ण
जब होती हैं स्वार्थ की,
जब होती हैं स्वार्थ की,
sushil sarna
एक दोहा...
एक दोहा...
डॉ.सीमा अग्रवाल
चमत्कार को नमस्कार
चमत्कार को नमस्कार
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
चमकते चेहरों की मुस्कान में....,
चमकते चेहरों की मुस्कान में....,
कवि दीपक बवेजा
* मुक्तक *
* मुक्तक *
surenderpal vaidya
#Dr Arun Kumar shastri
#Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Wait ( Intezaar)a precious moment of life:
Wait ( Intezaar)a precious moment of life:
पूर्वार्थ
ऐ जिंदगी....
ऐ जिंदगी....
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
वीर वैभव श्रृंगार हिमालय🏔️⛰️🏞️🌅
वीर वैभव श्रृंगार हिमालय🏔️⛰️🏞️🌅
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जीभ
जीभ
विजय कुमार अग्रवाल
Loading...