Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 May 2024 · 1 min read

3511.🌷 *पूर्णिका* 🌷

3511.🌷 पूर्णिका 🌷

आँखों में प्यार देखा है
22 2212 22
आँखों में प्यार देखा है ।
यारों में यार देखा है ।।
महके अपनी यहाँ बगियां ।
सुंदर संसार देखा है ।।
दिल में तो खूब है धड़कन ।
चाहत हर बार देखा है ।।
रखते सब ख्याल यूं अपना।
सनम समझदार देखा है ।।
ना डूबेगी कश्ती खेदू।
हाथों में पतवार देखा है ।।
…….✍ डॉ .खेदू भारती “सत्येश “
27-05-2024सोमवार

34 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अंताक्षरी पिरामिड तुक्तक
अंताक्षरी पिरामिड तुक्तक
Subhash Singhai
🌺हे परम पिता हे परमेश्वर 🙏🏻
🌺हे परम पिता हे परमेश्वर 🙏🏻
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
6) “जय श्री राम”
6) “जय श्री राम”
Sapna Arora
सूरज सा उगता भविष्य
सूरज सा उगता भविष्य
Harminder Kaur
पेड़ के हिस्से की जमीन
पेड़ के हिस्से की जमीन
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
😢काहे की गुड-मॉर्निंग?😢
😢काहे की गुड-मॉर्निंग?😢
*प्रणय प्रभात*
मां का दर रहे सब चूम
मां का दर रहे सब चूम
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
गुस्सा करते–करते हम सैचुरेटेड हो जाते हैं, और, हम वाजिब गुस्
गुस्सा करते–करते हम सैचुरेटेड हो जाते हैं, और, हम वाजिब गुस्
Dr MusafiR BaithA
2319.पूर्णिका
2319.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
काश - दीपक नील पदम्
काश - दीपक नील पदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
"डोली बेटी की"
Ekta chitrangini
सच तो सच ही रहता हैं।
सच तो सच ही रहता हैं।
Neeraj Agarwal
तेरे इंतज़ार में
तेरे इंतज़ार में
Surinder blackpen
एक मीठा सा एहसास
एक मीठा सा एहसास
हिमांशु Kulshrestha
हम ख़्वाब की तरह
हम ख़्वाब की तरह
Dr fauzia Naseem shad
आप सभी सनातनी और गैर सनातनी भाईयों और दोस्तों को सपरिवार भगव
आप सभी सनातनी और गैर सनातनी भाईयों और दोस्तों को सपरिवार भगव
SPK Sachin Lodhi
🙏 गुरु चरणों की धूल🙏
🙏 गुरु चरणों की धूल🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
जो समझ में आ सके ना, वो फसाना ए जहाँ हूँ
जो समझ में आ सके ना, वो फसाना ए जहाँ हूँ
Shweta Soni
हिन्दी दोहे- सलाह
हिन्दी दोहे- सलाह
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
किशोरावस्था : एक चिंतन
किशोरावस्था : एक चिंतन
Shyam Sundar Subramanian
अब न करेगे इश्क और न करेगे किसी की ग़ुलामी,
अब न करेगे इश्क और न करेगे किसी की ग़ुलामी,
Vishal babu (vishu)
राष्ट्र-मंदिर के पुजारी
राष्ट्र-मंदिर के पुजारी
नवीन जोशी 'नवल'
एक किताब सी तू
एक किताब सी तू
Vikram soni
हमारा मन
हमारा मन
surenderpal vaidya
*आई सदियों बाद है, राम-नाम की लूट (कुंडलिया)*
*आई सदियों बाद है, राम-नाम की लूट (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
हनुमान जी के गदा
हनुमान जी के गदा
Santosh kumar Miri
"तब"
Dr. Kishan tandon kranti
मची हुई संसार में,न्यू ईयर की धूम
मची हुई संसार में,न्यू ईयर की धूम
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
नौजवान सुभाष
नौजवान सुभाष
Aman Kumar Holy
Loading...