Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
26 Mar 2024 · 1 min read

3184.*पूर्णिका*

3184.*पूर्णिका*
🌷 हम बदले तो दुनिया बदले🌷
22 22 22 22
हम बदले तो दुनिया बदले।
मन सुंदर तो दुनिया बदले।।
तकलीफ नहीं कुछ भी देखो ।
खुशियांँ है तो दुनिया बदले।।
वक्त भी चाल चले जो अपनी।
देख जहाँ तो दुनिया बदले।।
जाने हम फूलों की दोस्ती।
कांटे है तो दुनिया बदले।।
आज जमाना अपना खेदू।
साथ यहाँ तो दुनिया बदले।।
………✍ डॉ .खेदूभारती”सत्येश”
25-03-2024सोमवार

62 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
इज्जत कितनी देनी है जब ये लिबास तय करता है
इज्जत कितनी देनी है जब ये लिबास तय करता है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
आदमी चिकना घड़ा है...
आदमी चिकना घड़ा है...
डॉ.सीमा अग्रवाल
मेरे बस्ती के दीवारों पर
मेरे बस्ती के दीवारों पर
'अशांत' शेखर
■ यूज़ कर सकते हैं, स्टोरेज़ नहीं। मज़ा लें पूरी तरह हर पल का।
■ यूज़ कर सकते हैं, स्टोरेज़ नहीं। मज़ा लें पूरी तरह हर पल का।
*Author प्रणय प्रभात*
वो दिखाते हैं पथ यात्रा
वो दिखाते हैं पथ यात्रा
प्रकाश
Thought
Thought
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*
*"गुरू पूर्णिमा"*
Shashi kala vyas
किसी के दर्द
किसी के दर्द
Dr fauzia Naseem shad
अबला नारी
अबला नारी
Buddha Prakash
नजरो नजरो से उनसे इकरार हुआ
नजरो नजरो से उनसे इकरार हुआ
Vishal babu (vishu)
है कहीं धूप तो  फिर  कही  छांव  है
है कहीं धूप तो फिर कही छांव है
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
छत्तीसगढ़िया संस्कृति के चिन्हारी- हरेली तिहार
छत्तीसगढ़िया संस्कृति के चिन्हारी- हरेली तिहार
Mukesh Kumar Sonkar
अब तक नहीं मिला है ये मेरी खता नहीं।
अब तक नहीं मिला है ये मेरी खता नहीं।
सत्य कुमार प्रेमी
20)”“गणतंत्र दिवस”
20)”“गणतंत्र दिवस”
Sapna Arora
रिश्ते
रिश्ते
Ram Krishan Rastogi
ये चिल्ले जाड़े के दिन / MUSAFIR BAITHA
ये चिल्ले जाड़े के दिन / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
8-मेरे मुखड़े को सूरज चाँद से माँ तोल देती है
8-मेरे मुखड़े को सूरज चाँद से माँ तोल देती है
Ajay Kumar Vimal
बापू गाँधी
बापू गाँधी
Kavita Chouhan
?????
?????
शेखर सिंह
माना मन डरपोक है,
माना मन डरपोक है,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
गीत प्रतियोगिता के लिए
गीत प्रतियोगिता के लिए
Manisha joshi mani
*टैगोर काव्य गोष्ठी/ संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ*
*टैगोर काव्य गोष्ठी/ संपूर्ण रामचरितमानस का पाठ*
Ravi Prakash
क्यों हिंदू राष्ट्र
क्यों हिंदू राष्ट्र
Sanjay ' शून्य'
तेवरी में करुणा का बीज-रूप +रमेशराज
तेवरी में करुणा का बीज-रूप +रमेशराज
कवि रमेशराज
"खोजना"
Dr. Kishan tandon kranti
वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप
वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप
Ravi Yadav
शायद कुछ अपने ही बेगाने हो गये हैं
शायद कुछ अपने ही बेगाने हो गये हैं
Ravi Ghayal
नारी शक्ति.....एक सच
नारी शक्ति.....एक सच
Neeraj Agarwal
मोहब्बत।
मोहब्बत।
Taj Mohammad
आधार छन्द-
आधार छन्द- "सीता" (मापनीयुक्त वर्णिक) वर्णिक मापनी- गालगागा गालगागा गालगागा गालगा (15 वर्ण) पिंगल सूत्र- र त म य र
Neelam Sharma
Loading...