Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Nov 2023 · 1 min read

2725.*पूर्णिका*

2725.*पूर्णिका*
🌷 मेरी छोटी-सी दुनिया
🌷
22 22 22 2
मेरी छोटी सी दुनिया ।
सुंदर न्यारी सी दुनिया ।।
ये जीवन महके हरदम।
मेरी प्यारी-सी दुनिया ।।
अपना हो आज हिस्सा तुम।
राज दुलारी सी दुनिया।।
प्यार यहाँ मांगे दिल भी ।
हो न कटारी सी दुनिया ।।
रंग नया रंगे खेदू ।
ये पिचकारी सी दुनिया ।।
…………✍डॉ .खेदू भारती “सत्येश”
13-11-23 सोमवार

208 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वक़्त गुज़रे तो
वक़्त गुज़रे तो
Dr fauzia Naseem shad
"तरीका"
Dr. Kishan tandon kranti
चाय के दो प्याले ,
चाय के दो प्याले ,
Shweta Soni
स्वदेशी कुंडल ( राय देवीप्रसाद 'पूर्ण' )
स्वदेशी कुंडल ( राय देवीप्रसाद 'पूर्ण' )
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
Sometimes we feel like a colourless wall,
Sometimes we feel like a colourless wall,
Sakshi Tripathi
आस नहीं मिलने की फिर भी,............ ।
आस नहीं मिलने की फिर भी,............ ।
निरंजन कुमार तिलक 'अंकुर'
ए दिल मत घबरा
ए दिल मत घबरा
Harminder Kaur
माँ भारती वंदन
माँ भारती वंदन
Kanchan Khanna
2931.*पूर्णिका*
2931.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
माता की महिमा
माता की महिमा
SHAILESH MOHAN
मोबाइल फोन
मोबाइल फोन
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
जीवन ज्योति
जीवन ज्योति
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
*आ गये हम दर तुम्हारे दिल चुराने के लिए*
*आ गये हम दर तुम्हारे दिल चुराने के लिए*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
देखी है हमने हस्तियां कई
देखी है हमने हस्तियां कई
KAJAL NAGAR
Topic Wait never ends
Topic Wait never ends
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कूल नानी
कूल नानी
Neelam Sharma
'ਸਾਜਿਸ਼'
'ਸਾਜਿਸ਼'
विनोद सिल्ला
ग़ज़ल
ग़ज़ल
विमला महरिया मौज
■ आज की बात...
■ आज की बात...
*Author प्रणय प्रभात*
सपने तेरे है तो संघर्ष करना होगा
सपने तेरे है तो संघर्ष करना होगा
पूर्वार्थ
वो नए सफर, वो अनजान मुलाकात- इंटरनेट लव
वो नए सफर, वो अनजान मुलाकात- इंटरनेट लव
कुमार
!! मेरी विवशता !!
!! मेरी विवशता !!
Akash Yadav
विश्वास का धागा
विश्वास का धागा
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
जरा सी गलतफहमी पर
जरा सी गलतफहमी पर
Vishal babu (vishu)
कुछ लोग अच्छे होते है,
कुछ लोग अच्छे होते है,
Umender kumar
खत पढ़कर तू अपने वतन का
खत पढ़कर तू अपने वतन का
gurudeenverma198
कौन है वो .....
कौन है वो .....
sushil sarna
बोलो राम राम
बोलो राम राम
नेताम आर सी
तुम याद आ रहे हो।
तुम याद आ रहे हो।
Taj Mohammad
जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक
जो तुम्हारी ख़ामोशी से तुम्हारी तकलीफ का अंदाजा न कर सके उसक
ख़ान इशरत परवेज़
Loading...