Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
4 Feb 2024 · 1 min read

13) “धूम्रपान-तम्बाकू निषेध”

आदत बुरी छोड़ हे इंसान,
जान ले, मान ले यह बात,
जीवन ले लेता यह दुष्ट धूम्रपान।

बीमारी न होगी कोई,यह भ्रम न तू पाल,
सेवन करेगा ग़र तंबाकू का,
पछतावे से होगा फिर, बुरा हाल।

तंबाकू की पुड़िया का नहीं कोई जोड़,
ज़िंदगी का गला न घोट,इस लत को छोड़।

तबाह हो जाता जीवन,धूएँ के दौर में,
आदि हो जाती पीढ़ी दर पीढ़ी,
नशे की दौड़ में।

भयंकर बीमारी का राज है यह धूम्रपान,
मानव शरीर में गिर रही एक ग़ाज़ है धूम्रपान।

ख़तरनाक प्रभावों से ग्रसित हो रहा शरीर तेरा,
मानव तू सभ्य, जीवन नहीं है अंधेरा,
क्यों नहीं देता छोड़,तंबाकू के धुएँ का घेरा।

इच्छा शक्ति जागृत कर, दृढ़ संकल्प को जगा,
जरुरत है पौष्टिक भोजन की,ख़ुद से तम्बाकू को दूर भगा।

योग की शिक्षा है अमूल्य, बन जाते निरोग,
स्वास्थ्य है संग गर समृद्ध हो जाते सब लोग।

कश लेते बेस्वाद, धूम्रपान एवम् तंबाकू है निषेध,
क्यों पीते हो दोस्तों, क्या है इसमें विशेष?

✍🏻स्वरचित/ मौलिक
सपना अरोरा ।

Language: Hindi
75 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
प्रेम पल्लवन
प्रेम पल्लवन
Er.Navaneet R Shandily
सम्मान करे नारी
सम्मान करे नारी
Dr fauzia Naseem shad
Just a duty-bound Hatred | by Musafir Baitha
Just a duty-bound Hatred | by Musafir Baitha
Dr MusafiR BaithA
कन्या रूपी माँ अम्बे
कन्या रूपी माँ अम्बे
Kanchan Khanna
2337.पूर्णिका
2337.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
अलविदा नहीं
अलविदा नहीं
Pratibha Pandey
डीजे
डीजे
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Honesty ki very crucial step
Honesty ki very crucial step
Sakshi Tripathi
हल
हल
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
आता जब समय चुनाव का
आता जब समय चुनाव का
Gouri tiwari
सुबह सुबह की चाय
सुबह सुबह की चाय
Neeraj Agarwal
तू प्रतीक है समृद्धि की
तू प्रतीक है समृद्धि की
gurudeenverma198
नकारात्मक लोगो से हमेशा दूर रहना चाहिए
नकारात्मक लोगो से हमेशा दूर रहना चाहिए
शेखर सिंह
बना एक दिन वैद्य का
बना एक दिन वैद्य का
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
सच्चाई के रास्ते को अपनाओ,
सच्चाई के रास्ते को अपनाओ,
Buddha Prakash
तलास है उस इंसान की जो मेरे अंदर उस वक्त दर्द देख ले जब लोग
तलास है उस इंसान की जो मेरे अंदर उस वक्त दर्द देख ले जब लोग
Rituraj shivem verma
बेरहम जिन्दगी के कई रंग है ।
बेरहम जिन्दगी के कई रंग है ।
Ashwini sharma
भले कठिन है ज़िन्दगी, जीना खुलके यार
भले कठिन है ज़िन्दगी, जीना खुलके यार
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
चला गया
चला गया
Mahendra Narayan
खिलौने वो टूट गए, खेल सभी छूट गए,
खिलौने वो टूट गए, खेल सभी छूट गए,
Abhishek Shrivastava "Shivaji"
मेरे पूर्ण मे आधा व आधे मे पुर्ण अहसास हो
मेरे पूर्ण मे आधा व आधे मे पुर्ण अहसास हो
Anil chobisa
दर्द तन्हाई मुहब्बत जो भी हो भरपूर होना चाहिए।
दर्द तन्हाई मुहब्बत जो भी हो भरपूर होना चाहिए।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
#परिहास-
#परिहास-
*Author प्रणय प्रभात*
रिश्ते की नियत
रिश्ते की नियत
पूर्वार्थ
बदलता चेहरा
बदलता चेहरा
Suman (Aditi Angel 🧚🏻)
सुख - डगर
सुख - डगर
Sandeep Pande
*चलती का नाम गाड़ी* 【 _कुंडलिया_ 】
*चलती का नाम गाड़ी* 【 _कुंडलिया_ 】
Ravi Prakash
"इस पृथ्वी पर"
Dr. Kishan tandon kranti
बालबीर भारत का
बालबीर भारत का
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जब भी आपसे कोई व्यक्ति खफ़ा होता है तो इसका मतलब यह नहीं है
जब भी आपसे कोई व्यक्ति खफ़ा होता है तो इसका मतलब यह नहीं है
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
Loading...