Oct 25, 2021 · 1 min read

” हमरा किया हटेलहूँ अपन फ्रेंड लिस्ट सं ?”

डॉ लक्ष्मण झा” परिमल ”
=============================
हमरा बुझागेल आहां मित्रताक सूची सं किया हमरा निकालि देलहुं ? इएह न हमर अपराध छल कि हम अपन अकाउंट खोलि फेसबुक मे अपन ध्वजा फहरा देलहुं आ चलि गेलहुं पाताल लोक क शयन कक्ष्य मे आ बनि गेलहुं कुम्भकरण ! सुतले -सुतले अपन विभिन्य भंगिमाक फोटो अपन टाइम लाइन मे पोस्ट करय लगलहूँ ! एहि क्रम मे फ्रेंड रिक्वेस्ट सेहो पठेलहूँ ! परंच अपन परिचय देनाइ विसरि गेलहुं ! हम के छी ?..कतय रहेत छी…की करैत छी ….इत्यादि.इत्यादि ! ऊँघायल त हम सब समय रहित छी ! एहि द्वारें अबाउट बाला कोलोमं पर हमर आंखिये झल्फला गेल ! किछु परिचय हम दS नहि सकलहूँ ! आब बुझा रहल अछि बजारक भाव ! नवका फ्रेंड लिस्टक रिक्वेस्टक बात त छोडिये दिय आब पुरनका मित्र सेहो खोइचा सोहि-सोहि कें निरीक्षण क रहल छथि आ हमरा ‘उन्फ़्रिएन्द ‘ क रहल छथि !
======================
डॉ लक्ष्मण झा” परिमल ”
दुमका

83 Views
You may also like:
कला के बिना जीवन सुना ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
जब-जब देखूं चाँद गगन में.....
अश्क चिरैयाकोटी
पिता
Santoshi devi
जिंदगी ये नहीं जिंदगी से वो थी
Abhishek Upadhyay
"ईद"
Lohit Tamta
तुमसे कोई शिकायत नही
Ram Krishan Rastogi
देखो हाथी राजा आए
VINOD KUMAR CHAUHAN
हिन्दी दोहे विषय- नास्तिक (राना लिधौरी)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
खुद को तुम पहचानो नारी [भाग २]
Anamika Singh
बचे जो अरमां तुम्हारे दिल में
Ram Krishan Rastogi
भारतीय संस्कृति के सेतु आदि शंकराचार्य
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मेरे पिता है प्यारे पिता
Vishnu Prasad 'panchotiya'
नदी की पपड़ी उखड़ी / (गर्मी का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
मत ज़हर हबा में घोल रे
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मजदूर_दिवस_पर_विशेष
संजीव शुक्ल 'सचिन'
यही है भीम की महिमा
Jatashankar Prajapati
यादें आती हैं
Krishan Singh
रोग ने कितना अकेला कर दिया
Dr Archana Gupta
सब्जी की टोकरी
Buddha Prakash
【25】 *!* विकृत विचार *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
【3】 ¡*¡ दिल टूटा आवाज हुई ना ¡*¡
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
गौरैया बोली मुझे बचाओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जो... तुम मुझ संग प्रीत करों...
Dr. Alpa H.
ग़म की ऐसी रवानी....
अश्क चिरैयाकोटी
💐प्रेम की राह पर-32💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
बारिश का सुहाना माहौल
KAMAL THAKUR
हो रही है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
पिता - नीम की छाँव सा - डी के निवातिया
डी. के. निवातिया
【10】 ** खिलौने बच्चों का संसार **
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
Loading...