Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2023 · 1 min read

🫡💯मेरी competition शायरी💯🫡

🫡💯मेरी competition शायरी💯🫡
लंबे समय से चलने वाला व्यक्ति मंद मंद कार्य करने वाला व्यक्ति सक्सेज जरूर होता है

1 Like · 756 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
★साथ तेरा★
★साथ तेरा★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
ग़ज़ल
ग़ज़ल
ईश्वर दयाल गोस्वामी
अपने पुस्तक के प्रकाशन पर --
अपने पुस्तक के प्रकाशन पर --
Shweta Soni
काजल
काजल
SHAMA PARVEEN
करने दो इजहार मुझे भी
करने दो इजहार मुझे भी
gurudeenverma198
भुलाना ग़लतियाँ सबकी सबक पर याद रख लेना
भुलाना ग़लतियाँ सबकी सबक पर याद रख लेना
आर.एस. 'प्रीतम'
*श्री सुंदरलाल जी ( लघु महाकाव्य)*
*श्री सुंदरलाल जी ( लघु महाकाव्य)*
Ravi Prakash
■ आज की बात
■ आज की बात
*प्रणय प्रभात*
नेता सोये चैन से,
नेता सोये चैन से,
sushil sarna
-- आगे बढ़ना है न ?--
-- आगे बढ़ना है न ?--
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
सनम
सनम
Satish Srijan
नींद और ख्वाब
नींद और ख्वाब
Surinder blackpen
जब हर एक दिन को शुभ समझोगे
जब हर एक दिन को शुभ समझोगे
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
सितारे हरदम साथ चलें , ऐसा नहीं होता
सितारे हरदम साथ चलें , ऐसा नहीं होता
Dr. Rajeev Jain
अमीर
अमीर
Punam Pande
हम हमेशा साथ रहेंगे
हम हमेशा साथ रहेंगे
Lovi Mishra
* विजयदशमी मनाएं हम *
* विजयदशमी मनाएं हम *
surenderpal vaidya
2336.पूर्णिका
2336.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
"सम्भावना"
Dr. Kishan tandon kranti
जलाना आग में ना ही मुझे मिट्टी में दफनाना
जलाना आग में ना ही मुझे मिट्टी में दफनाना
VINOD CHAUHAN
आजादी की कहानी
आजादी की कहानी
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
देखा है।
देखा है।
Shriyansh Gupta
पहले जो मेरा यार था वो अब नहीं रहा।
पहले जो मेरा यार था वो अब नहीं रहा।
सत्य कुमार प्रेमी
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
जब बातेंं कम हो जाती है अपनों की,
Dr. Man Mohan Krishna
सज गई अयोध्या
सज गई अयोध्या
Kumud Srivastava
घर एक मंदिर🌷
घर एक मंदिर🌷
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जल बचाओ, ना बहाओ।
जल बचाओ, ना बहाओ।
Buddha Prakash
है कश्मकश - इधर भी - उधर भी
है कश्मकश - इधर भी - उधर भी
Atul "Krishn"
अमर स्वाधीनता सैनानी डॉ. राजेन्द्र प्रसाद
अमर स्वाधीनता सैनानी डॉ. राजेन्द्र प्रसाद
कवि रमेशराज
Loading...