Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
27 Dec 2022 · 2 min read

💐तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है💐

##मणिकर्णिका##
##तुझे तो यहीं जाना है##
##कितने भी तीर्थ कर ले##
##बौनी बौनी बौनी##
##बिनु छल विश्वनाथ पगनेहू##
##रामभक्त कर लक्षण एहू##
##महादेव तो हमारे हैं##
##वहाँ क्या लेने गई##
##वहाँ भी हमारा आवेदन है##
##तेरे हिस्से में डर रहेगा##
##मेरे एक गीत का कत्ल कर दिया##

अंग्रेजी लिखने के लिए,देवनागरी लिपि का प्रयोग किया गया है, किसी की भावना को ठेस नहीं पहुंचाई गई है।एक रूपा को छोड़कर, तुम्हारी वाली नहीं।यहाँ वाली।हाँ😉😘😂😂🤣🤣

तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।
तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।
नखरे कितने हैं लगा के टीका,
दुनिया भर का पाखण्ड है फीका,
सब कुछ तेरा सेडीसिअस है,
मेरा सब कुछ प्रेशिअस है,एम्बीसीअस है,
पापा की परी है,
मुझसे बहुत डरी है,
यू आर फ्लाइंग इन द स्काई,
गिर जाएगी,मत उड़ ज़्यादा हाई,
तेरा मेरे ऊपर क्या जोर है,
तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।।1।।
ब्लैक एंड व्हाइट सूट, पीला पट्टा,
हे रूपा कभी खड़ा देखा है लठ्ठा😉,
नजरें कैमरे से बात कर रही हैं,
पीछे खड़ी मैडम उँगली कर रहीं है😉
लेफ्ट लेंस हल्का ब्लू है,
तेरी आँखों में कंसील इलू है,
तेरे घर में नया हैडपम्प लगेगा😉,
कुछ दिन ठहर जा,व्हाई व्हाई व्हाई,
बेबी बम्प लगेगा ,
बता तेरी डिग्री का कितना शोर है,
तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।।2।।
तेरे मुँह तो लगता डायोड है,
चल झूठी,तेरे पीछे छोरों का जीरो क्राउड है,
हे चल,छोरी बालों पर कलर करती है,
बालों पर क्यों इतना प्राउड करती है,
धिन धिन धिन धिन धिन धिन,
तेरी भी डेथ होगी, रिवर्स नंबर गिन,
हमें न था तेरा हैंग ओवर😉
रूपा कभी न खरीद पाएगी,रेंज रोवर,
काल आ रहा तेरी ओर है,
तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।।3।।
तू मेरा स्टेटमेन्ट डिक्टेट कर,
हे चुन्नी,इन्सफिसीएंट बात न कर,
महादेव तुझे ही मारेंगे,
हे फूलिश गर्ल!अभिषेक से ऐसे बात करोगे,
तेरे कान के नीचे चार चांटे और मारेंगे,
वो तो है मेरा डमरू वाला,
देवो के देव महादेव निराला,
हे रूपा तू कितना भी जोर लगा ले,
तेरे पड़ जायेंगे,क्या क्या क्या?
रोटी के लाले,
मैंने पाला तेरे लिए मोर है,
तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।।4।।
और कहाँ कहाँ तू घूमेगी?
वहाँ वहाँ मेरी प्रेजेंस लगेगी,
बचपन में तेरा हाथ था टूटा,
तेरे उनका कैसा था खूँटा😉,
चल छोड़,ज्यादा फियर मत पाल,
रो मत आँखे मत कर लाल,
मैं तो लिखता हूँ,मैंने चाहा कब,
मैंने तेरे लिए भी लिखा था,
हे रूपा तू आया कब?
तेरे दौर के आगे मेरा भी दौर है,
तेरे इश्क़ की ग्रेविटी कमजोर है।।5।।
©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
99 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.
You may also like:
गुरुवर
गुरुवर
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
महावीर की शिक्षाएं, सारी दुनिया को प्रसांगिक हैं
महावीर की शिक्षाएं, सारी दुनिया को प्रसांगिक हैं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
~~बस यूँ ही~~
~~बस यूँ ही~~
Dr Manju Saini
Tapish hai tujhe pane ki,
Tapish hai tujhe pane ki,
Sakshi Tripathi
एक नारी की पीड़ा
एक नारी की पीड़ा
Ram Krishan Rastogi
मेरी निगाहों मे किन गुहानों के निशां खोजते हों,
मेरी निगाहों मे किन गुहानों के निशां खोजते हों,
Vishal babu (vishu)
प्यार है रब की इनायत या इबादत क्या है।
प्यार है रब की इनायत या इबादत क्या है।
सत्य कुमार प्रेमी
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
"दौर"
Dr. Kishan tandon kranti
ये दिल
ये दिल
shabina. Naaz
कभी कभी ये पलकें भी
कभी कभी ये पलकें भी
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
तुम्हारे जाने के बाद...
तुम्हारे जाने के बाद...
Prem Farrukhabadi
चाहे जितनी देर लगे।
चाहे जितनी देर लगे।
Buddha Prakash
पहला-पहला प्यार
पहला-पहला प्यार
Shekhar Chandra Mitra
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺
subhash Rahat Barelvi
हम आम से खास हुए हैं।
हम आम से खास हुए हैं।
Taj Mohammad
*हार में भी होंठ पर, मुस्कान रहना चाहिए 【मुक्तक】*
*हार में भी होंठ पर, मुस्कान रहना चाहिए 【मुक्तक】*
Ravi Prakash
🌹तू दीवानी बन जाती 🌹
🌹तू दीवानी बन जाती 🌹
Dr.Khedu Bharti
बिन शादी के रह कर, संत-फकीरा कहा सुखी हो पायें।
बिन शादी के रह कर, संत-फकीरा कहा सुखी हो पायें।
Anil chobisa
जबकि मैं इस कोशिश में नहीं हूँ
जबकि मैं इस कोशिश में नहीं हूँ
gurudeenverma198
सेना सर्व धर्म स्थल में
सेना सर्व धर्म स्थल में
Satish Srijan
ज़िंदगी का सवाल रहता है
ज़िंदगी का सवाल रहता है
Dr fauzia Naseem shad
सुख दुःख
सुख दुःख
जगदीश लववंशी
दोहे एकादश ...
दोहे एकादश ...
डॉ.सीमा अग्रवाल
💐प्रेम कौतुक-517💐
💐प्रेम कौतुक-517💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
The bestest education one can deliver is  humanity and achie
The bestest education one can deliver is humanity and achie
Nupur Pathak
आत्म संयम दृढ़ रखों, बीजक क्रीड़ा आधार में।
आत्म संयम दृढ़ रखों, बीजक क्रीड़ा आधार में।
Er.Navaneet R Shandily
🌿⚘️प्राचीन  मंदिर (मड़) ककरुआ⚘️🌿
🌿⚘️प्राचीन मंदिर (मड़) ककरुआ⚘️🌿
Ms.Ankit Halke jha
"गाँव की सड़क" कहानी लेखक: राधाकिसन मूंदड़ा, सूरत, गुजरात!
Radhakishan Mundhra
■ दोहा :-
■ दोहा :-
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...