Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Jan 2023 · 1 min read

■ विचार

#अपना_कद_बड़ा_करो
किसी दूसरे का क़द न आपके घटाने से घटेगा, न बढाने से बढ़ेगा। अकारण अपना समय, श्रम व ऊर्जा नष्ट न करें। इतना समय, श्रम व ऊर्जा आपके अपने भले में काम लें। संभव हो तो औरों के भी।
【प्रणय प्रभात】

Language: Hindi
1 Like · 298 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺
🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺🌺
subhash Rahat Barelvi
इजहार ए मोहब्बत
इजहार ए मोहब्बत
साहित्य गौरव
रात के बाद सुबह का इंतजार रहता हैं।
रात के बाद सुबह का इंतजार रहता हैं।
Neeraj Agarwal
यार ब - नाम - अय्यार
यार ब - नाम - अय्यार
Ramswaroop Dinkar
सियासी खेल
सियासी खेल
AmanTv Editor In Chief
हल्ला बोल
हल्ला बोल
Shekhar Chandra Mitra
“गुरुनानक जयंती 08 नवम्बर 2022 पर विशेष” : आदर एवं श्रद्धा के प्रतीक -गुरुनानक देव
“गुरुनानक जयंती 08 नवम्बर 2022 पर विशेष” : आदर एवं श्रद्धा के प्रतीक -गुरुनानक देव
सत्य भूषण शर्मा
✍️आदमी ने बनाये है फ़ासले…
✍️आदमी ने बनाये है फ़ासले…
'अशांत' शेखर
*चार साल की उम्र हमारी ( बाल-कविता/बाल गीतिका )*
*चार साल की उम्र हमारी ( बाल-कविता/बाल गीतिका )*
Ravi Prakash
साइस और संस्कृति
साइस और संस्कृति
Bodhisatva kastooriya
मेरा पिता! मुझको कभी गिरने नही देगा
मेरा पिता! मुझको कभी गिरने नही देगा
अनूप अम्बर
"तब कोई बात है"
Dr. Kishan tandon kranti
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
माँ
माँ
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
घर जला दिए किसी की बस्तियां जली
घर जला दिए किसी की बस्तियां जली
कृष्णकांत गुर्जर
ख़ुद लड़िए, ख़ुद जीतिए,
ख़ुद लड़िए, ख़ुद जीतिए,
*Author प्रणय प्रभात*
कैसे तुम बिन
कैसे तुम बिन
Dr. Nisha Mathur
बद मिजाज और बद दिमाग इंसान
बद मिजाज और बद दिमाग इंसान
shabina. Naaz
हमारे दोस्त
हमारे दोस्त
Shivkumar Bilagrami
सृजन
सृजन
Prakash Chandra
जब से देखी है हमने उसकी वीरान सी आंखें.......
जब से देखी है हमने उसकी वीरान सी आंखें.......
कवि दीपक बवेजा
दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
दौड़ते ही जा रहे सब हर तरफ
Dhirendra Singh
तू मेरी मैं तेरा, इश्क है बड़ा सुनहरा
तू मेरी मैं तेरा, इश्क है बड़ा सुनहरा
SUNIL kumar
*** तेरी पनाह.....!!! ***
*** तेरी पनाह.....!!! ***
VEDANTA PATEL
दूर ...के सम्बंधों की बात ही हमलोग करना नहीं चाहते ......और
दूर ...के सम्बंधों की बात ही हमलोग करना नहीं चाहते ......और
DrLakshman Jha Parimal
I lose myself in your love,
I lose myself in your love,
Shweta Chanda
🙏🙏सुप्रभात जय माता दी 🙏🙏
🙏🙏सुप्रभात जय माता दी 🙏🙏
Er.Navaneet R Shandily
जिंदगी की खोज
जिंदगी की खोज
CA Amit Kumar
अपने होने का
अपने होने का
Dr fauzia Naseem shad
किताबें
किताबें
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...