Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
20 Jun 2023 · 1 min read

■ बेचारे…

■ बेचारे…
फ़ज़ीहत के मारे।

1 Like · 328 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
2943.*पूर्णिका*
2943.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
फ़ितरत का रहस्य
फ़ितरत का रहस्य
Buddha Prakash
चुप
चुप
Ajay Mishra
क्यूँ ख़ामोशी पसरी है
क्यूँ ख़ामोशी पसरी है
हिमांशु Kulshrestha
गौर किया जब तक
गौर किया जब तक
Koमल कुmari
घमंड
घमंड
Ranjeet kumar patre
सीसे में चित्र की जगह चरित्र दिख जाए तो लोग आइना देखना बंद क
सीसे में चित्र की जगह चरित्र दिख जाए तो लोग आइना देखना बंद क
Lokesh Sharma
कोशिशों में तेरी
कोशिशों में तेरी
Dr fauzia Naseem shad
तत्काल लाभ के चक्कर में कोई ऐसा कार्य नहीं करें, जिसमें धन भ
तत्काल लाभ के चक्कर में कोई ऐसा कार्य नहीं करें, जिसमें धन भ
Paras Nath Jha
#मुक्तक-
#मुक्तक-
*प्रणय प्रभात*
कानून में हाँफने की सजा( हास्य व्यंग्य)
कानून में हाँफने की सजा( हास्य व्यंग्य)
Ravi Prakash
ଆତ୍ମ ଦର୍ଶନ
ଆତ୍ମ ଦର୍ଶନ
Bidyadhar Mantry
फितरत है इंसान की
फितरत है इंसान की
आकाश महेशपुरी
आईना
आईना
Dr Parveen Thakur
नया मानव को होता दिख रहा है कुछ न कुछ हर दिन।
नया मानव को होता दिख रहा है कुछ न कुछ हर दिन।
सत्य कुमार प्रेमी
@ !!
@ !! "हिम्मत की डोर" !!•••••®:
Prakhar Shukla
वार
वार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
एक और सुबह तुम्हारे बिना
एक और सुबह तुम्हारे बिना
Surinder blackpen
दूर क्षितिज तक जाना है
दूर क्षितिज तक जाना है
Neerja Sharma
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
🥀 *अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
मुस्कराते हुए गुजरी वो शामे।
मुस्कराते हुए गुजरी वो शामे।
कुमार
****मैं इक निर्झरिणी****
****मैं इक निर्झरिणी****
Kavita Chouhan
कान्हा भजन
कान्हा भजन
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
धर्म खतरे में है.. का अर्थ
धर्म खतरे में है.. का अर्थ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
झुकना होगा
झुकना होगा
भरत कुमार सोलंकी
सच
सच
Neeraj Agarwal
I met Myself!
I met Myself!
कविता झा ‘गीत’
*तंजीम*
*तंजीम*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
भाई
भाई
Kanchan verma
दिन सुहाने थे बचपन के पीछे छोड़ आए
दिन सुहाने थे बचपन के पीछे छोड़ आए
इंजी. संजय श्रीवास्तव
Loading...