Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
8 Nov 2023 · 1 min read

■ एक_और_बरसी…

#एक_और_बरसी…!
■ ज़रा, याद करो कुर्बानी।।
【प्रणय प्रभात】
वर्ष 2016 में आज ही के दिन 1000 और 500 रुपए के नोट अकाल-मृत्यु के शिकार हुए थे। आज बेचारों की सातवीं पुण्यतिथि है। तरस आता है 1000 रुपए के नोट पर, जिसका वंश ही समाप्त हो गया। निस्संतान जो मारा गया बेचारा। राहत की बात बस इतनी है कि 500 के नोट की नई पीढ़ी फिलहाल ज़िंदा है। जिसने अपने बाप (हज़ारी) के बाद अकस्मात प्रकट हुए दूर के दादा (दुई हज़ारी) को दम तोड़ते देखा है। कुछ ही दिनों पहले। बहरहाल, दोनों निरीहो को कृतज्ञ राष्ट्र की ओर से भावपूरित श्रद्धांजलि।
तीसरे (2000) की भ्रूण-हत्या पर कोई तकलीफ़ नहीं, मगर दोनों की कुर्बानी भुलाए नहीं भूलती। वजह है उनकी मौत की वजह का साफ़ न होना। किससे करें शिकायत और किससे करें गिला…? मगर सच्चाई यही है कि दोनों के अकारण दिवंगत होने से किसी को कुछ भी नहीं मिला। न देश को, न देश वासियों को। कैश के खेल में ऐश तमामों के हुए, इतना ज़रूर पता है। जो काला था वो आज सफेद है। वैसे भी दोनों में क्या भेद है…?? बोलो ऊं शांति।।
■प्रणय प्रभात■
●संपादक/न्यूज़&व्यूज़●
श्योपुर (मध्यप्रदेश)

2 Likes · 191 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
६४बां बसंत
६४बां बसंत
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
आक्रोष
आक्रोष
Aman Sinha
मंजिलें
मंजिलें
Mukesh Kumar Sonkar
*किसान*
*किसान*
Dushyant Kumar
3184.*पूर्णिका*
3184.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
ज़िंदगी तो ज़िंदगी
ज़िंदगी तो ज़िंदगी
Dr fauzia Naseem shad
माये नि माये
माये नि माये
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दिल का आलम
दिल का आलम
Surinder blackpen
वतन हमारा है, गीत इसके गाते है।
वतन हमारा है, गीत इसके गाते है।
सत्य कुमार प्रेमी
गीत - इस विरह की वेदना का
गीत - इस विरह की वेदना का
Sukeshini Budhawne
करोगे रूह से जो काम दिल रुस्तम बना दोगे
करोगे रूह से जो काम दिल रुस्तम बना दोगे
आर.एस. 'प्रीतम'
कृष्ण कुमार अनंत
कृष्ण कुमार अनंत
Krishna Kumar ANANT
*जय सियाराम राम राम राम...*
*जय सियाराम राम राम राम...*
Harminder Kaur
रण
रण
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
हम ही हैं पहचान हमारी जाति हैं लोधी.
हम ही हैं पहचान हमारी जाति हैं लोधी.
Shyamsingh Lodhi Rajput (Tejpuriya)
*लहरा रहा तिरंगा प्यारा (बाल गीत)*
*लहरा रहा तिरंगा प्यारा (बाल गीत)*
Ravi Prakash
* छलक रहा घट *
* छलक रहा घट *
surenderpal vaidya
एक पुरुष कभी नपुंसक नहीं होता बस उसकी सोच उसे वैसा बना देती
एक पुरुष कभी नपुंसक नहीं होता बस उसकी सोच उसे वैसा बना देती
Rj Anand Prajapati
मिले हम तुझसे
मिले हम तुझसे
Seema gupta,Alwar
मैं हूं न ....@
मैं हूं न ....@
Dr. Akhilesh Baghel "Akhil"
अहंकार
अहंकार
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
नया भारत
नया भारत
गुमनाम 'बाबा'
#झांसों_से_बचें
#झांसों_से_बचें
*Author प्रणय प्रभात*
भारत में सबसे बड़ा व्यापार धर्म का है
भारत में सबसे बड़ा व्यापार धर्म का है
शेखर सिंह
*** अरमान....!!! ***
*** अरमान....!!! ***
VEDANTA PATEL
तंग जिंदगी
तंग जिंदगी
लक्ष्मी सिंह
माह -ए -जून में गर्मी से राहत के लिए
माह -ए -जून में गर्मी से राहत के लिए
सिद्धार्थ गोरखपुरी
आज फिर दर्द के किस्से
आज फिर दर्द के किस्से
Shailendra Aseem
दो शे'र
दो शे'र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
बना चाँद का उड़न खटोला
बना चाँद का उड़न खटोला
Vedha Singh
Loading...