Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Jul 2016 · 1 min read

ग़ज़ल (वक़्त की रफ़्तार)

ग़ज़ल (वक़्त की रफ़्तार)

वक़्त की रफ़्तार का कुछ भी भरोसा है नहीं
कल तलक था जो सुहाना कल वही विकराल हो

इस तरह से आज पग में फूल से कांटे चुभे हैं
चाँदनी से खौफ लगता ज्यों कालिमा का जाल हो

ये किसी की बदनसीबी गर नहीं तो और क्या है
याद आने पर किसी का हाल जब बदहाल हो

जो पास रहकर दूर हैं और दूर रहकर पास हैं
करते गुजारिश हैं खुदा से, मौत अब तत्काल हो

चंद लम्हों की धरोहर आज अपने पास है बस
ब्यर्थ से लगते मदन अब मास हो या साल हो

ग़ज़ल (वक़्त की रफ़्तार)
मदन मोहन सक्सेना

323 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
चिड़िया
चिड़िया
Dr. Pradeep Kumar Sharma
जब  भी  तू  मेरे  दरमियाँ  आती  है
जब भी तू मेरे दरमियाँ आती है
Bhupendra Rawat
वीरगति सैनिक
वीरगति सैनिक
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
💐प्रेम कौतुक-471💐
💐प्रेम कौतुक-471💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कविता(प्रेम,जीवन, मृत्यु)
कविता(प्रेम,जीवन, मृत्यु)
Shiva Awasthi
गनर यज्ञ (हास्य-व्यंग्य)
गनर यज्ञ (हास्य-व्यंग्य)
दुष्यन्त 'बाबा'
नया विज्ञापन
नया विज्ञापन
Otteri Selvakumar
*आ गये हम दर तुम्हारे दिल चुराने के लिए*
*आ गये हम दर तुम्हारे दिल चुराने के लिए*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
अहसास
अहसास
Sandeep Pande
🙅सनातन संस्कृति🙅
🙅सनातन संस्कृति🙅
*Author प्रणय प्रभात*
पराठों का स्वर्णिम इतिहास
पराठों का स्वर्णिम इतिहास
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
"नजरों से न गिरना"
Dr. Kishan tandon kranti
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
वो पास आने लगी थी
वो पास आने लगी थी
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
अकथ कथा
अकथ कथा
Neelam Sharma
सेर (शृंगार)
सेर (शृंगार)
सूरज राम आदित्य (Suraj Ram Aditya)
घर छोड़ गये तुम
घर छोड़ गये तुम
Rekha Drolia
प्रेम
प्रेम
विमला महरिया मौज
संगठन
संगठन
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
कुछ पल साथ में आओ हम तुम बिता लें
कुछ पल साथ में आओ हम तुम बिता लें
Pramila sultan
*क्रय करिएगा पुस्तकें (कुंडलिया)*
*क्रय करिएगा पुस्तकें (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
" मुशाफिर हूँ "
Pushpraj Anant
'बेटी की विदाई'
'बेटी की विदाई'
पंकज कुमार कर्ण
बदली-बदली सी तश्वीरें...
बदली-बदली सी तश्वीरें...
Dr Rajendra Singh kavi
दीदी
दीदी
Madhavi Srivastava
सबसे प्यारा सबसे न्यारा मेरा हिंदुस्तान
सबसे प्यारा सबसे न्यारा मेरा हिंदुस्तान
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जिंदगी की खोज
जिंदगी की खोज
CA Amit Kumar
चूरचूर क्यों ना कर चुकी हो दुनिया,आज तूं ख़ुद से वादा कर ले
चूरचूर क्यों ना कर चुकी हो दुनिया,आज तूं ख़ुद से वादा कर ले
Nilesh Premyogi
आया बसन्त आनन्द भरा
आया बसन्त आनन्द भरा
Surya Barman
2826. *पूर्णिका*
2826. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
Loading...