Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Feb 2024 · 1 min read

होठों को रख कर मौन

होठों को रख कर मौन
बातेँ आँखों से
आँखों की होने दो
बहुत पावन है प्रेम प्रिये
रूह से रूह का आलिंगन होने दो
जिस्मों की ख्वाहिश रखें क्यूँ
धड़कन को मिल कर धड़कन से
नयी प्रेम कथा एक रचने दो !!!!!

हिमांशु Kulshrestha

85 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मनुष्य की पहचान अच्छी मिठी-मिठी बातों से नहीं , अच्छे कर्म स
मनुष्य की पहचान अच्छी मिठी-मिठी बातों से नहीं , अच्छे कर्म स
Raju Gajbhiye
#मुक्तक
#मुक्तक
*प्रणय प्रभात*
3066.*पूर्णिका*
3066.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आ गए हम तो बिना बुलाये तुम्हारे घर
आ गए हम तो बिना बुलाये तुम्हारे घर
gurudeenverma198
अनुभूति
अनुभूति
Pratibha Pandey
न मुझको दग़ा देना
न मुझको दग़ा देना
Monika Arora
कभी बेवजह तुझे कभी बेवजह मुझे
कभी बेवजह तुझे कभी बेवजह मुझे
Basant Bhagawan Roy
मां
मां
Sonam Puneet Dubey
वक्त गर साथ देता
वक्त गर साथ देता
VINOD CHAUHAN
स्याही की
स्याही की
Atul "Krishn"
किसी को उदास पाकर
किसी को उदास पाकर
Shekhar Chandra Mitra
सच्ची प्रीत
सच्ची प्रीत
Dr. Upasana Pandey
5) कब आओगे मोहन
5) कब आओगे मोहन
पूनम झा 'प्रथमा'
आप में आपका
आप में आपका
Dr fauzia Naseem shad
गर्मी की छुट्टी में होमवर्क (बाल कविता )
गर्मी की छुट्टी में होमवर्क (बाल कविता )
Ravi Prakash
हिन्दू एकता
हिन्दू एकता
विजय कुमार अग्रवाल
शोषण खुलकर हो रहा, ठेकेदार के अधीन।
शोषण खुलकर हो रहा, ठेकेदार के अधीन।
Anil chobisa
रक्षा बंधन
रक्षा बंधन
Swami Ganganiya
।। गिरकर उठे ।।
।। गिरकर उठे ।।
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
पेडों को काटकर वनों को उजाड़कर
पेडों को काटकर वनों को उजाड़कर
ruby kumari
मेरी शायरी
मेरी शायरी
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
🏞️प्रकृति 🏞️
🏞️प्रकृति 🏞️
Vandna thakur
ग़ज़ल/नज़्म: एक तेरे ख़्वाब में ही तो हमने हजारों ख़्वाब पाले हैं
ग़ज़ल/नज़्म: एक तेरे ख़्वाब में ही तो हमने हजारों ख़्वाब पाले हैं
अनिल कुमार
संसार में
संसार में
Brijpal Singh
रमेशराज की तेवरी
रमेशराज की तेवरी
कवि रमेशराज
परिवार का एक मेंबर कांग्रेस में रहता है
परिवार का एक मेंबर कांग्रेस में रहता है
शेखर सिंह
*शहर की जिंदगी*
*शहर की जिंदगी*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
शुभम दुष्यंत राणा shubham dushyant rana ने हितग्राही कार्ड अभियान के तहत शासन की योजनाओं को लेकर जनता से ली राय
शुभम दुष्यंत राणा shubham dushyant rana ने हितग्राही कार्ड अभियान के तहत शासन की योजनाओं को लेकर जनता से ली राय
Bramhastra sahityapedia
सम्मान
सम्मान
Paras Nath Jha
बेटी को पंख के साथ डंक भी दो
बेटी को पंख के साथ डंक भी दो
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
Loading...