Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Jul 2023 · 1 min read

है कौन वो

डॉ अरुण कुमार शास्त्री – एक अबोध बालक – अरुण अतृप्त

* है कौन वो *

तस्वीर में कुछ और सामने कुछ
अजब सा लब्बोलुआब था
उसके चेहरे पर
काम में मशगूल हो तो
वेदों की ऋचाओ सी
नीद में गाफिल हो तो
मासूमियत बच्चों सी
सखियों संग हो तो
चेह्चाहती चिड़िया सी
माँ पिता के सामने
अनमोल पुडिया सी
तस्वीर में कुछ और सामने कुछ
अजब सा लब्बोलुआब था
उसके चेहरे पर
कभी मजाक में कुछ कह
दो तो गोलगप्पा
कभी तारीफ में कुछ कह
दो महकता गुलदस्ता
और बात न करो
तो सवालों की पोटली
तस्वीर में कुछ और सामने कुछ
अजब सा लब्बोलुआब था
उसके चेहरे पर
मैं जन्म से साथ हूँ उसके अगल बगल
पर एक पहेली सी वो मासूम ग़ज़ल
न मैं समझ पाया कभी उसको
न खुली वो कभी कि
कोई पढ़ न ले उसको
कोई शंका हो तो
सुरमई तितली सी
मुंह में जैसे घुली हो मिश्री सी
और किसी बात को
न मानो तो रणचंडी
दहकता शोला सीधा -सीधा अंगीठी सी
तस्वीर में कुछ और सामने कुछ
अजब सा लब्बोलुआब था
उसके चेहरे पर
बहुत सोचा रिश्ता ही
तोड़ दूँ कई बार
बात भी बंद कर दी यही
सोच कर हर बार
गजब की कूटनीतिज्ञ है अरे
ऐसे जैसे साक्षात चाणक्य
निकाल दिये मेरे कस बल सब
रहने कहाँ दिया दूर इतनी है परिपक्व
तस्वीर में कुछ और सामने कुछ
अजब सा लब्बोलुआब था
उसके चेहरे पर
मैं जन्म से साथ हूँ उसके अगल बगल

Language: Hindi
169 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from DR ARUN KUMAR SHASTRI
View all
You may also like:
दोस्त.............एक विश्वास
दोस्त.............एक विश्वास
Neeraj Agarwal
दुर्लभ हुईं सात्विक विचारों की श्रृंखला
दुर्लभ हुईं सात्विक विचारों की श्रृंखला
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*Nabi* के नवासे की सहादत पर
*Nabi* के नवासे की सहादत पर
Shakil Alam
शिमला
शिमला
Dr Parveen Thakur
नारी बिन नर अधूरा🙏
नारी बिन नर अधूरा🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
उड़ कर बहुत उड़े
उड़ कर बहुत उड़े
प्रकाश जुयाल 'मुकेश'
मेरे लिए
मेरे लिए
Shweta Soni
~~तीन~~
~~तीन~~
Dr. Vaishali Verma
**मातृभूमि**
**मातृभूमि**
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
2772. *पूर्णिका*
2772. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
मुश्किल है कितना
मुश्किल है कितना
Swami Ganganiya
हर लम्हा
हर लम्हा
Dr fauzia Naseem shad
पुरुष_विशेष
पुरुष_विशेष
पूर्वार्थ
भारत माँ के वीर सपूत
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
राजनीती
राजनीती
Bodhisatva kastooriya
विघ्न-विनाशक नाथ सुनो, भय से भयभीत हुआ जग सारा।
विघ्न-विनाशक नाथ सुनो, भय से भयभीत हुआ जग सारा।
संजीव शुक्ल 'सचिन'
श्रावणी हाइकु
श्रावणी हाइकु
Dr. Pradeep Kumar Sharma
वायु प्रदूषण रहित बनाओ।
वायु प्रदूषण रहित बनाओ।
Buddha Prakash
तिरे रूह को पाने की तश्नगी नहीं है मुझे,
तिरे रूह को पाने की तश्नगी नहीं है मुझे,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
प्रसाद का पूरा अर्थ
प्रसाद का पूरा अर्थ
Radhakishan R. Mundhra
पोषित करते अर्थ से,
पोषित करते अर्थ से,
sushil sarna
आइये - ज़रा कल की बात करें
आइये - ज़रा कल की बात करें
Atul "Krishn"
गजल सगीर
गजल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
सोशल मीडिया
सोशल मीडिया
Raju Gajbhiye
*हमेशा साथ में आशीष, सौ लाती बुआऍं हैं (हिंदी गजल)*
*हमेशा साथ में आशीष, सौ लाती बुआऍं हैं (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
- दीवारों के कान -
- दीवारों के कान -
bharat gehlot
मन
मन
Dr.Priya Soni Khare
मन मूरख बहुत सतावै
मन मूरख बहुत सतावै
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
किसान भैया
किसान भैया
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
Loading...