Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
12 Feb 2024 · 1 min read

हे मेरे प्रिय मित्र

हे मेरे प्रिय मित्र
होता वो नही जो तू चाहता है
होता वो है जो में चाहता हूं

41 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from कृष्णकांत गुर्जर
View all
You may also like:
दोहा त्रयी. . . .
दोहा त्रयी. . . .
sushil sarna
बेजुबान और कसाई
बेजुबान और कसाई
मनोज कर्ण
ख्वाब सुलग रहें है... जल जाएंगे इक रोज
ख्वाब सुलग रहें है... जल जाएंगे इक रोज
सिद्धार्थ गोरखपुरी
"जरा सुनो"
Dr. Kishan tandon kranti
संविधान  की बात करो सब केवल इतनी मर्जी  है।
संविधान की बात करो सब केवल इतनी मर्जी है।
सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’
पिया मिलन की आस
पिया मिलन की आस
Kanchan Khanna
भीष्म के उत्तरायण
भीष्म के उत्तरायण
Shaily
नींबू की चाह
नींबू की चाह
Ram Krishan Rastogi
बाल नृत्य नाटिका : कृष्ण और राधा
बाल नृत्य नाटिका : कृष्ण और राधा
Dr.Pratibha Prakash
मुक्तक... हंसगति छन्द
मुक्तक... हंसगति छन्द
डॉ.सीमा अग्रवाल
तेरे दिल की आवाज़ को हम धड़कनों में छुपा लेंगे।
तेरे दिल की आवाज़ को हम धड़कनों में छुपा लेंगे।
Phool gufran
*आया फागुन माह (कुंडलिया)*
*आया फागुन माह (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
राजाराम मोहन राॅय
राजाराम मोहन राॅय
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
💐इश्क़ में फ़क़्र होना भी शर्त है💐
💐इश्क़ में फ़क़्र होना भी शर्त है💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
कुछ तो है
कुछ तो है
मानक लाल मनु
परिवार
परिवार
डॉ० रोहित कौशिक
पुस्तक
पुस्तक
जगदीश लववंशी
शादी
शादी
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
ग़ज़ल
ग़ज़ल
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मालूम है मुझे वो मिलेगा नहीं,
मालूम है मुझे वो मिलेगा नहीं,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
"मैं न चाहता हार बनू मैं
Shubham Pandey (S P)
**
**
Suryakant Dwivedi
Friendship Day
Friendship Day
Tushar Jagawat
23/141.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/141.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
बधाई हो बधाई, नये साल की बधाई
बधाई हो बधाई, नये साल की बधाई
gurudeenverma198
*हिंदी की बिंदी भी रखती है गजब का दम 💪🏻*
*हिंदी की बिंदी भी रखती है गजब का दम 💪🏻*
Radhakishan R. Mundhra
गुरु महादेव रमेश गुरु है,
गुरु महादेव रमेश गुरु है,
Satish Srijan
हिन्दू और तुर्क दोनों को, सीधे शब्दों में चेताया
हिन्दू और तुर्क दोनों को, सीधे शब्दों में चेताया
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बूझो तो जानें (मुक्तक)
बूझो तो जानें (मुक्तक)
पंकज कुमार कर्ण
■ श्रद्धांजलि बापू को...
■ श्रद्धांजलि बापू को...
*Author प्रणय प्रभात*
Loading...