Sep 16, 2016 · 1 min read

हूँ मै नारी/मंदीप

हूँ मै नारी,
डरती हुई नारी,
पल पल मरती हूँ नारी,
बजारू नजरो से बचती हुई नारी।
हूँ मै नारी….

बिलकती हुई नारी,
खुद को बचाती हुई नारी,
अपनों का जुल्म सहती नारी,
अपनी ही किस्मत को कोसती नारी।
हूँ मै नारी….

घर की लाज बचाती नारी,
अपने सपनो को मरती नारी,
अपने आँसुओ को गिनती नारी,
अपना पेट काट दुसरो का पेट बरती नारी।
हूँ मै नारी….

कोख में मरती नारी,
दहेज की आग में जलती नारी,
घुगट की आग में रहती नारी,
माँ बाप की लाज बचाती नारी।
हूँ मै नारी….

सब्र का घूंट पीती नारी,
प्यार को तरसती नारी,
घर में ही दफन होती नारी,
गैरो की नजरो का बलत्कार सहती नारी,
हूँ मै नारी ….
हूँ मै नारी…….

मंदीपसाई

319 Views
You may also like:
कर्म ही पूजा है।
Anamika Singh
सुख दुख
Rakesh Pathak Kathara
*हिम्मत मत हारो ( गीत )*
Ravi Prakash
💐प्रेम की राह पर-24💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐प्रेम की राह पर-53💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
पुस्तकें
डॉ. शिव लहरी
नाथूराम गोडसे
Anamika Singh
ग़ज़ल
Mahendra Narayan
पिता, इन्टरनेट युग में
Shaily
बद्दुआ।
Taj Mohammad
संडे की व्यथा
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
गम हो या हो खुशी।
Taj Mohammad
पिता का महत्व
ओनिका सेतिया 'अनु '
खिले रहने का ही संदेश
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
【9】 *!* सुबह हुई अब बिस्तर छोडो *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
*रामपुर रजा लाइब्रेरी में रक्षा-ऋषि लेफ्टिनेंट जनरल श्री वी. के....
Ravi Prakash
मेरे पापा।
Taj Mohammad
अरविंद सवैया
संजीव शुक्ल 'सचिन'
इश्क में बेचैनियाँ बेताबियाँ बहुत हैं।
Taj Mohammad
कर्ज भरना पिता का न आसान है
आकाश महेशपुरी
मिसाल (कविता)
Kanchan Khanna
जो चाहे कर सकता है
Alok kumar Mishra
अंजान बन जाते हैं।
Taj Mohammad
बना कुंच से कोंच,रेल-पथ विश्रामालय।।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
🌺🌺प्रेम की राह पर-9🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बेबसी
Varsha Chaurasiya
" ओ मेरी प्यारी माँ "
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
🍀प्रेम की राह पर-55🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हमें तुम भुल गए
Anamika Singh
कामयाबी
डी. के. निवातिया
Loading...