Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Oct 2023 · 1 min read

*हिम्मत जिंदगी की*

हिम्मत जिंदगी की

ऐ 2020-
तूने हमे बहोत है सताया,
दुनिया मे कोरोना फैलाया,
हर खुशियों और त्योहारों पर सिर्फ, फासलों का सिलसिला तूने बनाया।

ऐ 2020 हे शिकायते तुझसे ढेर सारी, मगर तेरे आने से हमने अपनों का साथ पाया ,
तूने ही इंसानियत सिखाई,
क्या होती है देशभक्ती?
यह बताई,

माना तूने हम सबको कैदी बनाया,.
24 घंटे घर मे बसाया,
मगर,
तूने ही रिश्तों के धागों मे प्यार बढ़ाया,
अपनों का महत्त्व समझाया
इंसान को सही रास्ते पे लाया,
पहली बार इंसान ने सेहत के लिए पैसा छोडा .
जो घमंड था अमिरिका का वह भी तोड़ा..

ऐ 2020 तूने, किसान, मकान की अहमियत समझायी.
डॉक्टर और पोलिस के बलिदानों को कीमत दिलवायी,
मुझे और मेरे परिवार को जिंदगी का नया सबक सिखाया ,
रास्ते मे मुश्किलों का शिखर पार कराया ..

जिंदगी से लढने का नया तर्जुबा पाया |
ऐ 2020 तूने इतिहास रचाया ,
हर इंसान को मुश्किलों का सामना करना बताया,
हमे हमारी गलतियों का अहसास दिलवाया ,

जीवन में लड़ना हर हाल में खुश रहना सिखाया।
यादों का खजाना तेरो साथ खोला हमने.
वादों का समंदर तेरे साथ पूरा किया हमने ||

ये 2020 सच कहूं तो,
शुक्रिया जिंदगी मे नया मोड’ लाने केलीये,
हर वक्त को अहमियत दो यह समझाने के लिये ||**“`~
नौशाबा जिलानी सुरिया

2 Likes · 207 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
प्रेमी चील सरीखे होते हैं ;
प्रेमी चील सरीखे होते हैं ;
ब्रजनंदन कुमार 'विमल'
कुछ लिखा हैं तुम्हारे लिए, तुम सुन पाओगी क्या
कुछ लिखा हैं तुम्हारे लिए, तुम सुन पाओगी क्या
Writer_ermkumar
"शतरंज"
Dr. Kishan tandon kranti
प्रकृति ने अंँधेरी रात में चांँद की आगोश में अपने मन की सुंद
प्रकृति ने अंँधेरी रात में चांँद की आगोश में अपने मन की सुंद
Neerja Sharma
तुम किसी झील का मीठा पानी..(✍️kailash singh)
तुम किसी झील का मीठा पानी..(✍️kailash singh)
Kailash singh
मजदूर का बेटा हुआ I.A.S
मजदूर का बेटा हुआ I.A.S
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
बिटिया और धरती
बिटिया और धरती
Surinder blackpen
Dr Arun Kumar shastri
Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
✍️फिर वही आ गये...
✍️फिर वही आ गये...
'अशांत' शेखर
ढंका हुआ झूठ
ढंका हुआ झूठ
*Author प्रणय प्रभात*
हज़ारों साल
हज़ारों साल
abhishek rajak
गज़ल सी कविता
गज़ल सी कविता
Kanchan Khanna
मां शैलपुत्री
मां शैलपुत्री
Mukesh Kumar Sonkar
शहीद रामफल मंडल गाथा।
शहीद रामफल मंडल गाथा।
Acharya Rama Nand Mandal
*पुण्य कमाए तब मिले, पावन पिता महान (कुंडलिया)*
*पुण्य कमाए तब मिले, पावन पिता महान (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
3184.*पूर्णिका*
3184.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
इस जमाने जंग को,
इस जमाने जंग को,
Dr. Man Mohan Krishna
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-150 से चुने हुए श्रेष्ठ 11 दोहे
बुंदेली दोहा प्रतियोगिता-150 से चुने हुए श्रेष्ठ 11 दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
खुशियों का बीमा
खुशियों का बीमा
Dr. Pradeep Kumar Sharma
बेटियाँ
बेटियाँ
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
عيشُ عشرت کے مکاں
عيشُ عشرت کے مکاں
अरशद रसूल बदायूंनी
!! निरीह !!
!! निरीह !!
Chunnu Lal Gupta
सच का सूरज
सच का सूरज
Shekhar Chandra Mitra
प्यार के बारे में क्या?
प्यार के बारे में क्या?
Otteri Selvakumar
बिटिया की जन्मकथा / मुसाफ़िर बैठा
बिटिया की जन्मकथा / मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
हमनें ख़ामोश
हमनें ख़ामोश
Dr fauzia Naseem shad
कहना तो बहुत कुछ है
कहना तो बहुत कुछ है
पूर्वार्थ
किस क़दर आसान था
किस क़दर आसान था
हिमांशु Kulshrestha
*प्यार भी अजीब है (शिव छंद )*
*प्यार भी अजीब है (शिव छंद )*
Rituraj shivem verma
नवरात्र के सातवें दिन माँ कालरात्रि,
नवरात्र के सातवें दिन माँ कालरात्रि,
Harminder Kaur
Loading...