Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

*हवा का झोंका*

मस्त हवा का झोंका आया
लहराया फ़िर है बलखाया
::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
वसुधा नाची झूम-झूम कर
अम्बर ने भी गान सुनाया
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
महक उठा है मन का उपवन
खुशबू को इसने बिखराया
::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
नयी उमंगों का जीवन में
अब तो है परचम फहराया
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
खुशियों को फैला कर के
हर ग़म को है दूर भगाया
:::::::::::::::::::::::::::::::::::::::
धर्मेन्द्र अरोड़ा

158 Views
You may also like:
योगा
Utsav Kumar Aarya
# उम्मीद की किरण #
Dr. Alpa H. Amin
चश्मे-तर जिन्दगी
Dr. Sunita Singh
पितृ महिमा
मनोज कर्ण
जीवन एक कारखाना है /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
बरसात में साजन और सजनी
Ram Krishan Rastogi
*एक अच्छी स्वातंत्र्य अमृत स्मारिका*
Ravi Prakash
किसी से ना कोई मलाल है।
Taj Mohammad
ना मायूस हो खुदा से।
Taj Mohammad
इश्क ए दास्तां को।
Taj Mohammad
इश्क है यही।
Taj Mohammad
इश्क में बेचैनियाँ बेताबियाँ बहुत हैं।
Taj Mohammad
हे परम पिता परमेश्वर, जग को बनाने वाले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मैं पिता हूं।
Taj Mohammad
✍️आप क्यूँ लिखते है ?✍️
"अशांत" शेखर
"ज़ुबान हिल न पाई"
अमित मिश्र
.✍️आशियाना✍️
"अशांत" शेखर
"निर्झर"
Ajit Kumar "Karn"
मोतियों की सुनहरी माला
DESH RAJ
नयी बहुरिया घर आयी*
Dr. Sunita Singh
महाकवि नीरज के बहाने (संस्मरण)
Kanchan Khanna
प्रेम की किताब
DESH RAJ
भेड़ चाल में फंसी माँ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
देखो! पप्पू पास हो गया
संजीव शुक्ल 'सचिन'
राम नाम जप ले
Swami Ganganiya
सरकारी निजीकरण।
Taj Mohammad
बुरी आदत की तरह।
Taj Mohammad
मिलन की तड़प
Dr. Alpa H. Amin
✍️एक आफ़ताब ही काफी है✍️
"अशांत" शेखर
गर्मी पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
Loading...