Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
22 Jan 2023 · 1 min read

हर बार ही ख्याल तेरा।

हर बार ही ख्याल तेरा तड़पा कर गया है।
कभी रुलाकर तो कभी हंसा कर गया है।।

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

Language: Hindi
Tag: शेर
165 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Taj Mohammad
View all
You may also like:
दोहा त्रयी. . . .
दोहा त्रयी. . . .
sushil sarna
वक्त जब बदलता है
वक्त जब बदलता है
Surinder blackpen
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस :इंस्पायर इंक्लूजन
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस :इंस्पायर इंक्लूजन
Dr.Rashmi Mishra
बहादुर बेटियाँ
बहादुर बेटियाँ
हिमांशु बडोनी (दयानिधि)
सुविचार
सुविचार
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
मोहन वापस आओ
मोहन वापस आओ
Dr Archana Gupta
परिणति
परिणति
Shyam Sundar Subramanian
इन रावणों को कौन मारेगा?
इन रावणों को कौन मारेगा?
कवि रमेशराज
गुरु और गुरू में अंतर
गुरु और गुरू में अंतर
Subhash Singhai
दोहा
दोहा
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
पिता और पुत्र
पिता और पुत्र
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
*पशु- पक्षियों की आवाजें*
*पशु- पक्षियों की आवाजें*
Dushyant Kumar
सब्जी के दाम
सब्जी के दाम
Sushil Pandey
कोई शुहरत का मेरी है, कोई धन का वारिस
कोई शुहरत का मेरी है, कोई धन का वारिस
Sarfaraz Ahmed Aasee
🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
🙏*गुरु चरणों की धूल*🙏
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
अधूरी बात है मगर कहना जरूरी है
अधूरी बात है मगर कहना जरूरी है
नूरफातिमा खातून नूरी
*** बचपन : एक प्यारा पल....!!! ***
*** बचपन : एक प्यारा पल....!!! ***
VEDANTA PATEL
*नदियाँ पेड़ पहाड़ (कुंडलिया)*
*नदियाँ पेड़ पहाड़ (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
शापित है यह जीवन अपना।
शापित है यह जीवन अपना।
Arvind trivedi
* याद कर लें *
* याद कर लें *
surenderpal vaidya
ग़ज़ल _ मिल गयी क्यूँ इस क़दर तनहाईयाँ ।
ग़ज़ल _ मिल गयी क्यूँ इस क़दर तनहाईयाँ ।
Neelofar Khan
इंसान
इंसान
Vandna thakur
छंद मुक्त कविता : जी करता है
छंद मुक्त कविता : जी करता है
Sushila joshi
परामर्श शुल्क –व्यंग रचना
परामर्श शुल्क –व्यंग रचना
Dr Mukesh 'Aseemit'
उसकी जरूरत तक मैं उसकी ज़रुरत बनी रहीं !
उसकी जरूरत तक मैं उसकी ज़रुरत बनी रहीं !
Dr Manju Saini
"गुलशन"
Dr. Kishan tandon kranti
पहली नजर का जादू दिल पे आज भी है
पहली नजर का जादू दिल पे आज भी है
VINOD CHAUHAN
एक तो धर्म की ओढनी
एक तो धर्म की ओढनी
Mahender Singh
😢आज की आवाज़😢
😢आज की आवाज़😢
*प्रणय प्रभात*
चुनावी मौसम
चुनावी मौसम
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
Loading...