Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Oct 2023 · 1 min read

हर पिता को अपनी बेटी को,

हर पिता को अपनी बेटी को,
चांद बनाकर नहीं बल्कि,
सूरज की तरह पालना चाहिए।
क्योंकि हर पति ,पिता की तरह नहीं होता ।
पिता कभी अपनी बेटी को ,
किसी भी कीमत पर ताना।
नहीं मारता लेकिन पति कभी न कभी ,
अहसान जताय ही देता है।

1 Like · 235 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
गोंडीयन विवाह रिवाज : लमझाना
गोंडीयन विवाह रिवाज : लमझाना
GOVIND UIKEY
ଅହଙ୍କାର
ଅହଙ୍କାର
Bidyadhar Mantry
झुकना होगा
झुकना होगा
भरत कुमार सोलंकी
कोई बात नहीं, अभी भी है बुरे
कोई बात नहीं, अभी भी है बुरे
gurudeenverma198
तुम कहते हो राम काल्पनिक है
तुम कहते हो राम काल्पनिक है
Harinarayan Tanha
अधरों ने की  दिल्लगी, अधरों  से  कल  रात ।
अधरों ने की दिल्लगी, अधरों से कल रात ।
sushil sarna
अधूरी
अधूरी
Naushaba Suriya
छोड़ो टूटा भ्रम खुल गए रास्ते
छोड़ो टूटा भ्रम खुल गए रास्ते
VINOD CHAUHAN
"परवाज"
Dr. Kishan tandon kranti
गुरु चरण
गुरु चरण
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
♥️♥️ Dr. Arun Kumar shastri
♥️♥️ Dr. Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
उनकी तस्वीर
उनकी तस्वीर
Madhuyanka Raj
My Expressions
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
मन से भी तेज ( 3 of 25)
मन से भी तेज ( 3 of 25)
Kshma Urmila
Needs keep people together.
Needs keep people together.
सिद्धार्थ गोरखपुरी
*गठरी बाँध मुसाफिर तेरी, मंजिल कब आ जाए  ( गीत )*
*गठरी बाँध मुसाफिर तेरी, मंजिल कब आ जाए ( गीत )*
Ravi Prakash
जिंदगी का सफर
जिंदगी का सफर
Gurdeep Saggu
ज़िंदगी यूँ तो बड़े आज़ार में है,
ज़िंदगी यूँ तो बड़े आज़ार में है,
Kalamkash
आईना हो सामने फिर चेहरा छुपाऊं कैसे,
आईना हो सामने फिर चेहरा छुपाऊं कैसे,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हमको मिलते जवाब
हमको मिलते जवाब
Dr fauzia Naseem shad
प्यार किया हो जिसने, पाने की चाह वह नहीं रखते।
प्यार किया हो जिसने, पाने की चाह वह नहीं रखते।
Yogi Yogendra Sharma : Motivational Speaker
फिर से आयेंगे
फिर से आयेंगे
प्रेमदास वसु सुरेखा
🌹 *गुरु चरणों की धूल*🌹
🌹 *गुरु चरणों की धूल*🌹
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
तुम मेरे हो
तुम मेरे हो
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
2796. *पूर्णिका*
2796. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
तेरी फ़ितरत, तेरी कुदरत
तेरी फ़ितरत, तेरी कुदरत
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Imagine you're busy with your study and work but someone wai
Imagine you're busy with your study and work but someone wai
पूर्वार्थ
ज़माना हक़ीक़त
ज़माना हक़ीक़त
Vaishaligoel
ओझल मनुआ मोय
ओझल मनुआ मोय
श्रीहर्ष आचार्य
रमेशराज के 'नव कुंडलिया 'राज' छंद' में 7 बालगीत
रमेशराज के 'नव कुंडलिया 'राज' छंद' में 7 बालगीत
कवि रमेशराज
Loading...