Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Jul 2023 · 1 min read

स्वयं द्वारा किए कर्म यदि बच्चों के लिए बाधा बनें और गृह स्

स्वयं द्वारा किए कर्म यदि बच्चों के लिए बाधा बनें और गृह स्वामी जीवन त्याग तक कर दे, वो राम का घर। अपने दंभ और लिप्सा के लिए अपने स्वजनों को मृत्यु के मुंह में धकेले, वो रावण का घर।

1 Like · 233 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
*ट्रक का ज्ञान*
*ट्रक का ज्ञान*
Dr. Priya Gupta
उनकी उल्फत देख ली।
उनकी उल्फत देख ली।
सत्य कुमार प्रेमी
धार्मिक सौहार्द एवम मानव सेवा के अद्भुत मिसाल सौहार्द शिरोमणि संत श्री सौरभ
धार्मिक सौहार्द एवम मानव सेवा के अद्भुत मिसाल सौहार्द शिरोमणि संत श्री सौरभ
World News
हर एक अनुभव की तर्ज पर कोई उतरे तो....
हर एक अनुभव की तर्ज पर कोई उतरे तो....
कवि दीपक बवेजा
हाय रे गर्मी
हाय रे गर्मी
अनिल "आदर्श"
मनमीत
मनमीत
लक्ष्मी सिंह
बुराई कर मगर सुन हार होती है अदावत की
बुराई कर मगर सुन हार होती है अदावत की
आर.एस. 'प्रीतम'
जिन्दगी मे एक बेहतरीन व्यक्ति होने के लिए आप मे धैर्य की आवश
जिन्दगी मे एक बेहतरीन व्यक्ति होने के लिए आप मे धैर्य की आवश
पूर्वार्थ
मैं तेरे गले का हार बनना चाहता हूं
मैं तेरे गले का हार बनना चाहता हूं
Keshav kishor Kumar
तन्हा तन्हा ही चलना होगा
तन्हा तन्हा ही चलना होगा
AMRESH KUMAR VERMA
निरोगी काया
निरोगी काया
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
1 *मेरे दिल की जुबां, मेरी कलम से*
1 *मेरे दिल की जुबां, मेरी कलम से*
Dr Shweta sood
भक्ति एक रूप अनेक
भक्ति एक रूप अनेक
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तब गाँव हमे अपनाता है
तब गाँव हमे अपनाता है
संजय कुमार संजू
पहला प्यार नहीं बदला...!!
पहला प्यार नहीं बदला...!!
Ravi Betulwala
मैं इन्सान हूँ यही तो बस मेरा गुनाह है
मैं इन्सान हूँ यही तो बस मेरा गुनाह है
VINOD CHAUHAN
जीव-जगत आधार...
जीव-जगत आधार...
डॉ.सीमा अग्रवाल
*कभी नहीं पशुओं को मारो (बाल कविता)*
*कभी नहीं पशुओं को मारो (बाल कविता)*
Ravi Prakash
भूख सोने नहीं देती
भूख सोने नहीं देती
Shweta Soni
दास्ताने-इश्क़
दास्ताने-इश्क़
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
विवाह रचाने वाले बंदर / MUSAFIR BAITHA
विवाह रचाने वाले बंदर / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
लौ
लौ
Dr. Seema Varma
नारियां
नारियां
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
■ अब भी समय है।।
■ अब भी समय है।।
*Author प्रणय प्रभात*
हमारे प्यार का आलम,
हमारे प्यार का आलम,
Satish Srijan
अपने सुख के लिए, दूसरों को कष्ट देना,सही मनुष्य पर दोषारोपण
अपने सुख के लिए, दूसरों को कष्ट देना,सही मनुष्य पर दोषारोपण
विमला महरिया मौज
3201.*पूर्णिका*
3201.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
तलाश है।
तलाश है।
नेताम आर सी
शादी की उम्र नहीं यह इनकी
शादी की उम्र नहीं यह इनकी
gurudeenverma198
शैक्षिक विकास
शैक्षिक विकास
Dr. Pradeep Kumar Sharma
Loading...