Oct 6, 2016 · 1 min read

स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई…: छंद कुण्डलिया

आजादी का यह दिवस, इस पर हमको नाज.
मिलें हाथ में हाथ जब, उन्नत बने समाज..
उन्नत बने समाज, कार्य हों ऐसे अपने.
करें सृजन नव नित्य, इसी के देखें सपने.
गद्दारों को दंड, भयंकर दें फौलादी.
भारत बने अखंड, मिले पूरी आजादी..

इंजी० अम्बरीष श्रीवास्तव ‘अम्बर’

134 Views
You may also like:
पुरी के समुद्र तट पर (1)
Shailendra Aseem
भेड़ चाल में फंसी माँ
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
पितु संग बचपन
मनोज कर्ण
गुरु तेग बहादुर जी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मृत्यु डराती पल - पल
Dr.sima
गर्मी
Ram Krishan Rastogi
धुँध
Rekha Drolia
हनुमान जयंती पर कुछ मुक्तक
Ram Krishan Rastogi
नर्सिंग दिवस विशेष
हरीश सुवासिया
याद मेरी तुम्हे आती तो होगी
Ram Krishan Rastogi
वह मेरे पापा हैं।
Taj Mohammad
गौरैया बोली मुझे बचाओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सीख
Pakhi Jain
राई का पहाड़
Sangeeta Darak maheshwari
💐प्रेम की राह पर-30💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
संकरण हो गया
सिद्धार्थ गोरखपुरी
ये नारी है नारी।
Taj Mohammad
काश बचपन लौट आता
Anamika Singh
इश्क में बेचैनियाँ बेताबियाँ बहुत हैं।
Taj Mohammad
तेरा पापा... अपने वतन में
Dr. Pratibha Mahi
स्मृति चिन्ह
Shyam Sundar Subramanian
💐💐प्रेम की राह पर-21💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
प्रेम
Rashmi Sanjay
ईश्वरतत्वीय वरदान"पिता"
Archana Shukla "Abhidha"
💐💐प्रेम की राह पर-17💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ये दूरियां मिटा दो ना
Nitu Sah
कल जब हम तुमसे मिलेंगे
Saraswati Bajpai
शायरी ने बर्बाद कर दिया |
Dheerendra Panchal
** शरारत **
Dr. Alpa H.
लड़ते रहो
Vivek Pandey
Loading...