Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Mar 2017 · 1 min read

साहब जी हैं व्यस्त

होते हैं सब भाग्य से, राजा रंक फ़क़ीर
हरे परायी पीर जो, कहलाता वह पीर

इतना भी क्या दे रहे, इन मूंछों पर ताव
थोड़ा सा तो दीजिये, प्रेम भाव को भाव

कुछ तो रम में रम रहे, कुछ को हैं प्रिय राम
कुछ को कर्म प्रधान हैं, कुछ पुजते बिन काम

कुछ सोने में व्यस्त हैं, कुछ सोने में मस्त
सोना चाहो तुम अगर, रहो कर्म में व्यस्त

मत से था मतलब कभी, अब मत पाकर मस्त
मत देकर कुछ माँग मत, साहब जी हैं व्यस्त

जब जब रन में तू भिड़ा, हारा है नापाक
फिर क्यों जबरन मुँह उठा, इधर रहा है ताक

Language: Hindi
275 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
वक़्त की रफ़्तार को
वक़्त की रफ़्तार को
Dr fauzia Naseem shad
*यह  ज़िंदगी  नही सरल है*
*यह ज़िंदगी नही सरल है*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जन अधिनायक ! मंगल दायक! भारत देश सहायक है।
जन अधिनायक ! मंगल दायक! भारत देश सहायक है।
Neelam Sharma
कपूत।
कपूत।
Acharya Rama Nand Mandal
एक कप कड़क चाय.....
एक कप कड़क चाय.....
Santosh Soni
छात्रों का विरोध स्वर
छात्रों का विरोध स्वर
Rj Anand Prajapati
दोहे
दोहे
सत्य कुमार प्रेमी
Dr Arun Kumar Shastri
Dr Arun Kumar Shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
मेरी हस्ती का अभी तुम्हे अंदाज़ा नही है
मेरी हस्ती का अभी तुम्हे अंदाज़ा नही है
'अशांत' शेखर
"इस जगत में"
Dr. Kishan tandon kranti
नैन खोल मेरी हाल देख मैया
नैन खोल मेरी हाल देख मैया
Basant Bhagawan Roy
Ye ayina tumhari khubsoorti nhi niharta,
Ye ayina tumhari khubsoorti nhi niharta,
Sakshi Tripathi
झील किनारे
झील किनारे
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
साँझ ढले ही आ बसा, पलकों में अज्ञात।
साँझ ढले ही आ बसा, पलकों में अज्ञात।
डॉ.सीमा अग्रवाल
मुझे याद🤦 आती है
मुझे याद🤦 आती है
डॉ० रोहित कौशिक
मोबाइल
मोबाइल
लक्ष्मी सिंह
दिल हो काबू में....😂
दिल हो काबू में....😂
Jitendra Chhonkar
मेरा सोमवार
मेरा सोमवार
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
भाई दोज
भाई दोज
Ram Krishan Rastogi
बहन की रक्षा करना हमारा कर्तव्य ही नहीं बल्कि धर्म भी है, पर
बहन की रक्षा करना हमारा कर्तव्य ही नहीं बल्कि धर्म भी है, पर
जय लगन कुमार हैप्पी
* खिल उठती चंपा *
* खिल उठती चंपा *
surenderpal vaidya
*पाया दुर्लभ जन्म यह, मानव-तन वरदान【कुंडलिया】*
*पाया दुर्लभ जन्म यह, मानव-तन वरदान【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
अग्नि परीक्षा सहने की एक सीमा थी
अग्नि परीक्षा सहने की एक सीमा थी
Shweta Soni
जय माता दी -
जय माता दी -
Raju Gajbhiye
वो आया इस तरह से मेरे हिज़ार में।
वो आया इस तरह से मेरे हिज़ार में।
Phool gufran
🥀*गुरु चरणों की धूल* 🥀
🥀*गुरु चरणों की धूल* 🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
306.*पूर्णिका*
306.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
عيشُ عشرت کے مکاں
عيشُ عشرت کے مکاں
अरशद रसूल बदायूंनी
हवन - दीपक नीलपदम्
हवन - दीपक नीलपदम्
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
आत्मा
आत्मा
Bodhisatva kastooriya
Loading...