Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Sep 2022 · 1 min read

सरस्वती आरती

#सरस्वती_आरती
———————-——–///———————————
मन से मिटे कुविचार माँ शुभ कर्म का उपहार दे |
है आरती स्वीकार कर वरदान दे माँ शारदे ||

हिय से लगा कर वत्स की दुविधा सदा तुम पाटती |
हर विघ्न में बन ढाल माँ विपदा सभी भय छाँटती |
कर नेह की बरसात माँ निज पुत्र को तब पालती |
हर बात का रख ध्यान माँ गुण पुत्र के उर डालती ||

ममता दिखाकर नेह से विपदा मिटा सुखसार दे |
है आरती स्वीकार कर, वरदान दे माँ शारदे||१||

ममतामयी सुखदायिनी वरदायिनी दुखनासिनी |
ममता तले रख ज्ञान दो दुख दूर हो मुखवासिनी |
मतिमंद को अब ज्ञान का वरदान दो भवतारिणी |
अनभिज्ञता हिय से मिटे यह मान दो जगकारिणी ||

मतिमूढ़ को अब बोध का वरदान दे तम तार दे |
है आरती स्वीकार कर, वरदान दे माँ शारदे||२||

शुचि ज्ञान का सुविचार दो तम नाश हो तमहारिणी |
करता रहूँ नित ध्यान पूजन आरती उपकारिणी |
मतिमूढ़ मैं मतिमंद बालक ज्ञान दो वरदायिनी |
उर में रहे निज भक्ति का वरदान दो अनपायनी ||

वरदान दे भव ज्ञान दे अनभिज्ञ को कछु प्यार दे |
है आरती स्वीकार कर, वरदान दे माँ शारदे||३||

है आरती माँ शारदे, स्वीकार हो बागीश्वरी|
तमहारिणी, भवभामिनी, दुखहारिणी सर्वेश्वरी|
उर में दया का बोध दे, हम पातकी माँ ईश्वरी|
तू ज्ञान का पट खोल दे, माँ शारदे ज्ञानेश्वरी||

पग में झुकाकर शीश मैं वर मांगता माँ तारदे |
है आरती स्वीकार कर, वरदान दे माँ शारदे||४||

पूर्णतः स्वरचित , स्वप्रमाणित
✍️ संजीव शुक्ल ‘सचिन’
( शहर का नाम :- मुसहरवा (मंशानगर)

Language: Hindi
Tag: गीत
2 Likes · 253 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from संजीव शुक्ल 'सचिन'
View all
You may also like:
कभी लौट गालिब देख हिंदुस्तान को क्या हुआ है,
कभी लौट गालिब देख हिंदुस्तान को क्या हुआ है,
शेखर सिंह
2323.पूर्णिका
2323.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
चेतावनी हिमालय की
चेतावनी हिमालय की
Dr.Pratibha Prakash
-- मौत का मंजर --
-- मौत का मंजर --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
जो शख़्स तुम्हारे गिरने/झुकने का इंतजार करे, By God उसके लिए
जो शख़्स तुम्हारे गिरने/झुकने का इंतजार करे, By God उसके लिए
अंकित आजाद गुप्ता
रूप मधुर ऋतुराज का, अंग माधवी - गंध।
रूप मधुर ऋतुराज का, अंग माधवी - गंध।
डॉ.सीमा अग्रवाल
बेटी को पंख के साथ डंक भी दो
बेटी को पंख के साथ डंक भी दो
ऐ./सी.राकेश देवडे़ बिरसावादी
तपोवन है जीवन
तपोवन है जीवन
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
भ्रम नेता का
भ्रम नेता का
Sanjay ' शून्य'
बाबुल
बाबुल
Neeraj Agarwal
जनमदिन तुम्हारा !!
जनमदिन तुम्हारा !!
Dhriti Mishra
'चो' शब्द भी गजब का है, जिसके साथ जुड़ जाता,
'चो' शब्द भी गजब का है, जिसके साथ जुड़ जाता,
SPK Sachin Lodhi
सफलता यूं ही नहीं मिल जाती है।
सफलता यूं ही नहीं मिल जाती है।
नेताम आर सी
मुझे नहीं नभ छूने का अभिलाष।
मुझे नहीं नभ छूने का अभिलाष।
Anil Mishra Prahari
कुंडलिनी छंद ( विश्व पुस्तक दिवस)
कुंडलिनी छंद ( विश्व पुस्तक दिवस)
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
टमाटर तुझे भेजा है कोरियर से, टमाटर नही मेरा दिल है…
टमाटर तुझे भेजा है कोरियर से, टमाटर नही मेरा दिल है…
Anand Kumar
*सुकुं का झरना*... ( 19 of 25 )
*सुकुं का झरना*... ( 19 of 25 )
Kshma Urmila
ये आप पर है कि ज़िंदगी कैसे जीते हैं,
ये आप पर है कि ज़िंदगी कैसे जीते हैं,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
दोहे... चापलूस
दोहे... चापलूस
लक्ष्मीकान्त शर्मा 'रुद्र'
*सौ वर्षों तक जीना अपना, अच्छा तब कहलाएगा (हिंदी गजल)*
*सौ वर्षों तक जीना अपना, अच्छा तब कहलाएगा (हिंदी गजल)*
Ravi Prakash
कुछ जवाब शांति से दो
कुछ जवाब शांति से दो
पूर्वार्थ
दोस्तों की कमी
दोस्तों की कमी
Dr fauzia Naseem shad
स्मृति ओहिना हियमे-- विद्यानन्द सिंह
स्मृति ओहिना हियमे-- विद्यानन्द सिंह
श्रीहर्ष आचार्य
मुट्ठी में आकाश ले, चल सूरज की ओर।
मुट्ठी में आकाश ले, चल सूरज की ओर।
Suryakant Dwivedi
आओ हम सब मिल कर गाएँ ,
आओ हम सब मिल कर गाएँ ,
Lohit Tamta
Struggle to conserve natural resources
Struggle to conserve natural resources
Desert fellow Rakesh
#शेर-
#शेर-
*Author प्रणय प्रभात*
बोये बीज बबूल आम कहाँ से होय🙏
बोये बीज बबूल आम कहाँ से होय🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
!! राम जीवित रहे !!
!! राम जीवित रहे !!
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
* बाल विवाह मुक्त भारत *
* बाल विवाह मुक्त भारत *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
Loading...