Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
9 Jul 2023 · 1 min read

समय और स्वास्थ्य के असली महत्त्व को हम तब समझते हैं जब उसका

समय और स्वास्थ्य के असली महत्त्व को हम तब समझते हैं जब उसका नाश हो चुका होता है।

Paras Nath Jha

93 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Paras Nath Jha
View all
You may also like:
Today's Thought
Today's Thought
DR ARUN KUMAR SHASTRI
15- दोहे
15- दोहे
Ajay Kumar Vimal
एक बालक की अभिलाषा
एक बालक की अभिलाषा
Shyam Sundar Subramanian
Where is love?
Where is love?
Otteri Selvakumar
"अंतिम-सत्य..!"
Prabhudayal Raniwal
है कौन वो राजकुमार!
है कौन वो राजकुमार!
Shilpi Singh
छेड़ कोई तान कोई सुर सजाले
छेड़ कोई तान कोई सुर सजाले
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
सृजन
सृजन
Rekha Drolia
भक्त मार्ग और ज्ञान मार्ग
भक्त मार्ग और ज्ञान मार्ग
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
वृक्षों के उपकार....
वृक्षों के उपकार....
डॉ.सीमा अग्रवाल
*बस एक बार*
*बस एक बार*
Shashi kala vyas
Lines of day
Lines of day
Sampada
किसी गैर के पल्लू से बंधी चवन्नी को सिक्का समझना मूर्खता होत
किसी गैर के पल्लू से बंधी चवन्नी को सिक्का समझना मूर्खता होत
विमला महरिया मौज
सकारात्मकता
सकारात्मकता
Sangeeta Beniwal
■ आज का गीत
■ आज का गीत
*Author प्रणय प्रभात*
"अस्थिरं जीवितं लोके अस्थिरे धनयौवने |
Mukul Koushik
दरोगवा / MUSAFIR BAITHA
दरोगवा / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
बढ़ी शय है मुहब्बत
बढ़ी शय है मुहब्बत
shabina. Naaz
शीर्षक - सच (हमारी सोच)
शीर्षक - सच (हमारी सोच)
Neeraj Agarwal
सपना
सपना
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
"कलम का संसार"
Dr. Kishan tandon kranti
*सुंदर लाल इंटर कॉलेज में विद्यार्थी जीवन*
*सुंदर लाल इंटर कॉलेज में विद्यार्थी जीवन*
Ravi Prakash
प्यार की कलियुगी परिभाषा
प्यार की कलियुगी परिभाषा
Mamta Singh Devaa
Ye ayina tumhari khubsoorti nhi niharta,
Ye ayina tumhari khubsoorti nhi niharta,
Sakshi Tripathi
बाबू जी
बाबू जी
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
उतार देती हैं
उतार देती हैं
Dr fauzia Naseem shad
नफ़रत के सौदागर
नफ़रत के सौदागर
Shekhar Chandra Mitra
विछोह के पल
विछोह के पल
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
"पँछियोँ मेँ भी, अमिट है प्यार..!"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
सियाचिनी सैनिक
सियाचिनी सैनिक
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
Loading...