Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Oct 2023 · 1 min read

सत्य कड़वा नहीं होता अपितु

सत्य कड़वा नहीं होता अपितु
असत्य प्रेमियों के लिए असहनीय होता है

गौरी तिवारी

2 Likes · 299 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
मौका जिस को भी मिले वही दिखाए रंग ।
मौका जिस को भी मिले वही दिखाए रंग ।
Mahendra Narayan
जब -जब धड़कन को मिली,
जब -जब धड़कन को मिली,
sushil sarna
నా గ్రామం..
నా గ్రామం..
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
*जिंदगी के युद्ध में, मत हार जाना चाहिए (गीतिका)*
*जिंदगी के युद्ध में, मत हार जाना चाहिए (गीतिका)*
Ravi Prakash
बना चाँद का उड़न खटोला
बना चाँद का उड़न खटोला
Vedha Singh
हम तो फूलो की तरह अपनी आदत से बेबस है.
हम तो फूलो की तरह अपनी आदत से बेबस है.
शेखर सिंह
पयसी
पयसी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नए मुहावरे में बुरी औरत / MUSAFIR BAITHA
नए मुहावरे में बुरी औरत / MUSAFIR BAITHA
Dr MusafiR BaithA
रामकली की दिवाली
रामकली की दिवाली
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सारा रा रा
सारा रा रा
Sanjay ' शून्य'
"चिता"
Dr. Kishan tandon kranti
मैं कुछ इस तरह
मैं कुछ इस तरह
Dr Manju Saini
संगदिल
संगदिल
Aman Sinha
3141.*पूर्णिका*
3141.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
फांसी का फंदा भी कम ना था,
फांसी का फंदा भी कम ना था,
Rahul Singh
राणा सा इस देश में, हुआ न कोई वीर
राणा सा इस देश में, हुआ न कोई वीर
Dr Archana Gupta
मन सोचता है...
मन सोचता है...
Harminder Kaur
चंद सिक्कों की खातिर
चंद सिक्कों की खातिर
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तलाक़ का जश्न…
तलाक़ का जश्न…
Anand Kumar
✍️पर्दा-ताक हुवा नहीं✍️
✍️पर्दा-ताक हुवा नहीं✍️
'अशांत' शेखर
बता तुम ही सांवरिया मेरे,
बता तुम ही सांवरिया मेरे,
Radha jha
ऐ जिंदगी
ऐ जिंदगी
Anil "Aadarsh"
प्रेम का अंधा उड़ान✍️✍️
प्रेम का अंधा उड़ान✍️✍️
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
जीवन - अस्तित्व
जीवन - अस्तित्व
Shyam Sundar Subramanian
शायरी - ग़ज़ल - संदीप ठाकुर
शायरी - ग़ज़ल - संदीप ठाकुर
Sandeep Thakur
अजनबी जैसा हमसे
अजनबी जैसा हमसे
Dr fauzia Naseem shad
तोड़कर दिल को मेरे इश्क़ के बाजारों में।
तोड़कर दिल को मेरे इश्क़ के बाजारों में।
Phool gufran
इंसान की भूख कामनाएं बढ़ाती है।
इंसान की भूख कामनाएं बढ़ाती है।
Rj Anand Prajapati
मुस्कुराना सीख लिया !|
मुस्कुराना सीख लिया !|
पूर्वार्थ
* खूबसूरत इस धरा को *
* खूबसूरत इस धरा को *
surenderpal vaidya
Loading...