Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Nov 2022 · 1 min read

*संघर्ष जीवन का सदा पर्यायवाची है (मुक्तक)*

*संघर्ष जीवन का सदा पर्यायवाची है (मुक्तक)*
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
उगा सूरज हमेशा से दिशा अभिराम प्राची है
मनुज जो स्वाभिमानी है बना किंचित न याची है
जगत का आपदाओं से घिरा रहना सुनिश्चित है
सतत संघर्ष जीवन का सदा पर्यायवाची है
■■■■■■■■■■■■■■■■
रचयिता : रवि प्रकाश ,बाजार सर्राफा
रामपुर (उत्तर प्रदेश)
मोबाइल 99976 15451

Language: Hindi
72 Views
Join our official announcements group on Whatsapp & get all the major updates from Sahityapedia directly on Whatsapp.

Books from Ravi Prakash

You may also like:
*बीमारी न छुपाओ*
*बीमारी न छुपाओ*
Dushyant Kumar
शेयर मार्केट में पैसा कैसे डूबता है ?
शेयर मार्केट में पैसा कैसे डूबता है ?
Rakesh Bahanwal
💐प्रेम कौतुक-266💐
💐प्रेम कौतुक-266💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
धार तुम देते रहो
धार तुम देते रहो
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
*स्वयंवर (कुंडलिया)*
*स्वयंवर (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
#तेवरी / #अफ़सरी
#तेवरी / #अफ़सरी
*Author प्रणय प्रभात*
उसका चेहरा उदास था
उसका चेहरा उदास था
Surinder blackpen
उसे देख खिल गयीं थीं कलियांँ
उसे देख खिल गयीं थीं कलियांँ
श्री रमण 'श्रीपद्'
बरसात
बरसात
लक्ष्मी सिंह
आईने झूठ तो बोलेंगे नहीं
आईने झूठ तो बोलेंगे नहीं
Ranjana Verma
प्रेम प्रणय मधुमास का पल
प्रेम प्रणय मधुमास का पल
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
"ओस की बूंद"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
कण-कण में श्रीराम हैं, रोम-रोम में राम ।
कण-कण में श्रीराम हैं, रोम-रोम में राम ।
डॉ.सीमा अग्रवाल
तू होती तो
तू होती तो
Satish Srijan
सत्य
सत्य
Dr. Rajiv
हम आम से खास हुए हैं।
हम आम से खास हुए हैं।
Taj Mohammad
अपराधियों ने जमा ली सियासत में पैठ
अपराधियों ने जमा ली सियासत में पैठ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
🙏माॅं सिद्धिदात्री🙏
🙏माॅं सिद्धिदात्री🙏
पंकज कुमार कर्ण
बेरोजगारी।
बेरोजगारी।
Anil Mishra Prahari
जिक्र क्या जुबा पर नाम नही
जिक्र क्या जुबा पर नाम नही
पूर्वार्थ
* शरारा *
* शरारा *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हुईं वो ग़ैर
हुईं वो ग़ैर
Shekhar Chandra Mitra
रखो शीशे की तरह दिल साफ़….ताकी
रखो शीशे की तरह दिल साफ़….ताकी
shabina. Naaz
हर रिश्ते में विश्वास रहने दो,
हर रिश्ते में विश्वास रहने दो,
Shubham Pandey (S P)
मौका जिस को भी मिले वही दिखाए रंग ।
मौका जिस को भी मिले वही दिखाए रंग ।
Mahendra Narayan
है नारी तुम महान , त्याग की तुम मूरत
है नारी तुम महान , त्याग की तुम मूरत
श्याम सिंह बिष्ट
قفس میں جان جائے گی ہماری
قفس میں جان جائے گی ہماری
Simmy Hasan
काश हम बच्चे हो जाते
काश हम बच्चे हो जाते
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
सरसी छंद
सरसी छंद
Charu Mitra
दो शे'र
दो शे'र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
Loading...