Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Sep 2022 · 1 min read

संगीत

तेरी बचपन की यादो मै
मै अभी भी जी रहा हूॅ
तू तो छोड गई तन्हा
उन यादो मे मै पी रहाहूॅ
तेरे बचपन के कल
मेरी गलियो मे आना
उन यादो को कैसे भूलाऊ
मेरी जान भी जाए। ।।
पर तूझे दिल से न भूल पाऊ। ।।
तेरी बचपन की यादो मै मैं अभी भी जी रहा हूॅ
तू तो। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।पी रहा हूॅ
तेरे बो रास्ते जहाॅ खेले हमी
वो बागो का कल और बारिस का जल
मै कैसे उसे भूल पाऊ मै तन्हा रहूॅ
तू हसती रहे मै कैसे उसे भूल पाऊ।।।।।
तेरे बचपन की यादो मे मै अभी भी पी रहा हूॅ
तूतो। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।पी रहा हूॅ
तेरे मेरे प्यार की कहानी
मै लोगो को कैसे बताऊ
चाहे तू मुझे भूल जा
पर तूझे मै न भूल पाऊ।।।।।।
तेरे बचपन की यादो मे मै अभी भी जी रहा हूॅ
तू तो। ।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।।पी रहा हूॅ

Language: Hindi
2 Likes · 75 Views
You may also like:
हम आम से खास हुए हैं।
हम आम से खास हुए हैं।
Taj Mohammad
किसने क्या किया
किसने क्या किया
Dr fauzia Naseem shad
जीवन उत्सव
जीवन उत्सव
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
असली पप्पू
असली पप्पू
Shekhar Chandra Mitra
हम किसी के लिए कितना भी कुछ करले ना हमारे
हम किसी के लिए कितना भी कुछ करले ना हमारे
Shankar J aanjna
💐अज्ञात के प्रति-113💐
💐अज्ञात के प्रति-113💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
आंखों के दपर्ण में
आंखों के दपर्ण में
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
कोई पत्ता कब खुशी से अपनी पेड़ से अलग हुआ है
कोई पत्ता कब खुशी से अपनी पेड़ से अलग हुआ...
कवि दीपक बवेजा
💥सच कहा तो बुरा मान गए 💥
💥सच कहा तो बुरा मान गए 💥
Khedu Bharti "Satyesh"
✍️अरमानों की ख्वाईश
✍️अरमानों की ख्वाईश
'अशांत' शेखर
एक जिंदगी एक है जीवन
एक जिंदगी एक है जीवन
विजय कुमार अग्रवाल
प्रेम -जगत/PREM JAGAT
प्रेम -जगत/PREM JAGAT
Shivraj Anand
!! समय का महत्व !!
!! समय का महत्व !!
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
पेड़ पौधों के प्रति मेरा वैज्ञानिक समर्पण
पेड़ पौधों के प्रति मेरा वैज्ञानिक समर्पण
Ankit Halke jha
■ सर्वोत्तम उपहार / श्री रामचरित मानस
■ सर्वोत्तम उपहार / श्री रामचरित मानस
*Author प्रणय प्रभात*
एक ठहरा ये जमाना
एक ठहरा ये जमाना
Varun Singh Gautam
लगा ले कोई भी रंग हमसें छुपने को
लगा ले कोई भी रंग हमसें छुपने को
Sonu sugandh
किसी का भाई ,किसी का जान
किसी का भाई ,किसी का जान
Nishant prakhar
हम भी कहेंगे अपने तजुरबात पे ग़जल।
हम भी कहेंगे अपने तजुरबात पे ग़जल।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
कुंडलिया छंद
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ग़ज़ल
ग़ज़ल
प्रीतम श्रावस्तवी
फेमस होने के खातिर ही ,
फेमस होने के खातिर ही ,
Rajesh vyas
51-   सुहाना
51- सुहाना
Rambali Mishra
वो बचपन की बातें
वो बचपन की बातें
Shyam Singh Lodhi (LR)
हाइकु
हाइकु
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
सुना था हमने, इश्क़ बेवफ़ाई का नाम है
सुना था हमने, इश्क़ बेवफ़ाई का नाम है
N.ksahu0007@writer
Writing Challenge- समय (Time)
Writing Challenge- समय (Time)
Sahityapedia
सिकन्दर वक्त होता है
सिकन्दर वक्त होता है
Satish Srijan
तू रुक ना पायेगा ।
तू रुक ना पायेगा ।
Buddha Prakash
*राधे राधे प्रिया प्रिया ...श्री राधे राधे प्रिया प्रिया*
*राधे राधे प्रिया प्रिया ...श्री राधे राधे प्रिया प्रिया*
Ravi Prakash
Loading...