Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Feb 2017 · 1 min read

शायरी

मैं नहीं चाहता की तू मुझ को दुआ दे
मैं नहीं चाहता की तू मुझे वफ़ा दे
मैं नहीं चाहता की रब से मेरे लिया कुछ मांग
पर में चाहता हूँ , तूं हर पल खुश रह !!

यह क्या मेरे लिए किसी दुआ से कम है
तूं खुश है तो मेरा मन भी खुश है
तुझ को खुश देख लूं तो समझूंगा की दुआ कबूल है
मेरा यार सुखी तो मेरा दिल खुशगवार है !!

अजीत
मेरठ

Language: Hindi
Tag: शेर
338 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
View all
You may also like:
"जिन्दगी"
Dr. Kishan tandon kranti
CUPID-STRUCK !
CUPID-STRUCK !
Ahtesham Ahmad
कितना रोके मगर मुश्किल से निकल जाती है
कितना रोके मगर मुश्किल से निकल जाती है
सिद्धार्थ गोरखपुरी
शीर्षक – शुष्क जीवन
शीर्षक – शुष्क जीवन
Manju sagar
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
2664.*पूर्णिका*
2664.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सत्य असत्य से हारा नहीं है
सत्य असत्य से हारा नहीं है
Dr fauzia Naseem shad
हाय रे गर्मी
हाय रे गर्मी
अनिल "आदर्श"
एक सख्सियत है दिल में जो वर्षों से बसी है
एक सख्सियत है दिल में जो वर्षों से बसी है
हरवंश हृदय
🥀* अज्ञानी की कलम*🥀
🥀* अज्ञानी की कलम*🥀
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
Gazal
Gazal
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
#हास_परिहास
#हास_परिहास
*Author प्रणय प्रभात*
*योग (बाल कविता)*
*योग (बाल कविता)*
Ravi Prakash
दशरथ मांझी होती हैं चीटियाँ
दशरथ मांझी होती हैं चीटियाँ
Dr MusafiR BaithA
काश हर ख़्वाब समय के साथ पूरे होते,
काश हर ख़्वाब समय के साथ पूरे होते,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
हिंदू-हिंदू भाई-भाई
हिंदू-हिंदू भाई-भाई
Shekhar Chandra Mitra
विचार
विचार
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
माता - पिता
माता - पिता
Umender kumar
कैसे कांटे हो तुम
कैसे कांटे हो तुम
Basant Bhagawan Roy
अजीज़ सारे देखते रह जाएंगे तमाशाई की तरह
अजीज़ सारे देखते रह जाएंगे तमाशाई की तरह
_सुलेखा.
पलक झपकते हो गया, निष्ठुर  मौन  प्रभात ।
पलक झपकते हो गया, निष्ठुर मौन प्रभात ।
sushil sarna
मनु-पुत्रः मनु के वंशज...
मनु-पुत्रः मनु के वंशज...
डॉ.सीमा अग्रवाल
जल
जल
सुशील मिश्रा ' क्षितिज राज '
*मूलांक*
*मूलांक*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
काव्य में विचार और ऊर्जा
काव्य में विचार और ऊर्जा
कवि रमेशराज
बेगुनाह कोई नहीं है इस दुनिया में...
बेगुनाह कोई नहीं है इस दुनिया में...
Radhakishan R. Mundhra
🌹हार कर भी जीत 🌹
🌹हार कर भी जीत 🌹
Dr Shweta sood
वो कड़वी हक़ीक़त
वो कड़वी हक़ीक़त
पूर्वार्थ
बहुत दिनों के बाद दिल को फिर सुकून मिला।
बहुत दिनों के बाद दिल को फिर सुकून मिला।
Prabhu Nath Chaturvedi "कश्यप"
शीर्षक - संगीत
शीर्षक - संगीत
Neeraj Agarwal
Loading...