Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jan 2017 · 1 min read

व्यथा

सभी कहते हैं
उत्तर दिशा बहुत शुभ होती है

मैंने भी सुना है
सूर्य जब अंतरण करता है
उत्तर दिशा की ओर
तिल तिल बढ़ती चली जाती हैं खुशियाँ

फिर दिन प्रतिदिन
अग्नि, ज्योति व प्रकाश से
होने लगता है जीवन
तेजस्वी और प्रकाशमय भी
यूँ ही होने लगती हैं
दुःखों से खुशियों की संक्रांति

एक प्रश्न मेरे भी मस्तिष्क में
बार बार कौंध जाता है
यदि उत्तर दिशा इतनी शुभ होती है
तो मैं भी तो तुम्हारी वामांगी हूँ
फिर मैं अशुभ कैसे?

लोधी डॉ. आशा ‘अदिति’
भोपाल

Language: Hindi
241 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बड़ी मोहब्बतों से संवारा था हमने उन्हें जो पराए हुए है।
बड़ी मोहब्बतों से संवारा था हमने उन्हें जो पराए हुए है।
Taj Mohammad
प्रेम
प्रेम
बिमल तिवारी “आत्मबोध”
आ भी जाओ
आ भी जाओ
Surinder blackpen
दिल पे पत्थर ना रखो
दिल पे पत्थर ना रखो
shabina. Naaz
कलरव करते भोर में,
कलरव करते भोर में,
sushil sarna
दुख
दुख
Rekha Drolia
मेरा दुश्मन
मेरा दुश्मन
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
23/74.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/74.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
निर्धन बिलखे भूख से, कौर न आए हाथ।
निर्धन बिलखे भूख से, कौर न आए हाथ।
डॉ.सीमा अग्रवाल
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
Manisha Manjari
Desires are not made to be forgotten,
Desires are not made to be forgotten,
Sakshi Tripathi
*
*"राम नाम रूपी नवरत्न माला स्तुति"
Shashi kala vyas
*🌹जिसने दी है जिंदगी उसका*
*🌹जिसने दी है जिंदगी उसका*
Manoj Kushwaha PS
दादी दादा का प्रेम किसी भी बच्चे को जड़ से जोड़े  रखता है या
दादी दादा का प्रेम किसी भी बच्चे को जड़ से जोड़े रखता है या
Utkarsh Dubey “Kokil”
"एक हकीकत"
Dr. Kishan tandon kranti
नजराना
नजराना
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
अंबर तारों से भरा, फिर भी काली रात।
अंबर तारों से भरा, फिर भी काली रात।
लक्ष्मी सिंह
बहुत ऊँची नही होती है उड़ान दूसरों के आसमाँ की
बहुत ऊँची नही होती है उड़ान दूसरों के आसमाँ की
'अशांत' शेखर
हम दुसरों की चोरी नहीं करते,
हम दुसरों की चोरी नहीं करते,
Dr. Man Mohan Krishna
"दिल चाहता है"
Pushpraj Anant
बंदे को पता होता कि जेल से जारी आदेश मीडियाई सुर्खी व प्रेस
बंदे को पता होता कि जेल से जारी आदेश मीडियाई सुर्खी व प्रेस
*Author प्रणय प्रभात*
बेशक हम गरीब हैं लेकिन दिल बड़ा अमीर है कभी आना हमारे छोटा स
बेशक हम गरीब हैं लेकिन दिल बड़ा अमीर है कभी आना हमारे छोटा स
Ranjeet kumar patre
कौआ और कोयल ( दोस्ती )
कौआ और कोयल ( दोस्ती )
VINOD CHAUHAN
परीक्षा
परीक्षा
Er. Sanjay Shrivastava
सुकून की चाबी
सुकून की चाबी
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
वक्त
वक्त
Astuti Kumari
*जीवन का झंझावातों से, हर दिन का नाता है (मुक्तक)*
*जीवन का झंझावातों से, हर दिन का नाता है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
बोलो!... क्या मैं बोलूं...
बोलो!... क्या मैं बोलूं...
Santosh Soni
भाषा और बोली में वहीं अंतर है जितना कि समन्दर और तालाब में ह
भाषा और बोली में वहीं अंतर है जितना कि समन्दर और तालाब में ह
Rj Anand Prajapati
"अदृश्य शक्ति"
Ekta chitrangini
Loading...