Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
25 Jul 2016 · 1 min read

वो करेंगे सौ बहाने, देख लेना जी…

वो करेंगे सौ बहाने, देख लेना जी
आ रहे हैं फिर लुभाने, देख लेना जी

नल, सड़क, बिजली मिलेगी, गाँव वालों को
थे यही वादे पुराने, देख लेना जी

एक बस इस गाँव से उस गांव दौड़ेगी
गा रहे हैं वो तराने, देख लेना जी

हम करेंगे खत्म भ्रष्टाचार को जड़ से
आ गये ये रंग जमाने, देख लेना जी

इक चिकित्सा-घर बनेगा, पाठशाला भी
स्वप्न दिखलाते सुहाने, देख लेना जी

फिर वही बातें धरम की, जाति के चर्चे
अा गये फिर सिर दु:खाने, देख लेना जी

सत्य, मिथ्या की परख है या नहीं तुमको
ये खड़े हैं आजमाने, देख लेना जी

जो अमन की बात छेड़े, जो तरक्की दे
अाप उसका साथ देना, देख लेना जी

तब कहीं जाकर सुनहरा दौर आयेगा
हाँ, लदेंगे दिन पुराने, देख लेना जी

++++++++++++++++++++++++++

सोमनाथ शुक्ल
इलाहाबाद

1 Comment · 205 Views
You may also like:
*हिंदी दिवस (गीत)*
Ravi Prakash
हर घर तिरंगा
Dr Archana Gupta
कटुसत्य
Shyam Sundar Subramanian
इंतजार की हद
shabina. Naaz
सुविधा भोगी कायर
Shekhar Chandra Mitra
"जया-रवि किशन" दोहे संवाद
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️क़ुर्बान मेरा जज़्बा हो✍️
'अशांत' शेखर
जय जय हिन्दी
gurudeenverma198
दीपावली २०२२ की हार्दिक शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
दोस्त
लक्ष्मी सिंह
पिता हैं छाँव जैसे
अंकित शर्मा 'इषुप्रिय'
“ अच्छा लगे तो स्वीकार करो ,बुरा लगे तो नज़र...
DrLakshman Jha Parimal
गुरु तुम क्या हो यार !
jaswant Lakhara
मोहब्बत जिससे हमने की है गद्दारी नहीं की।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
आग्रह
Rashmi Sanjay
हर हक़ीक़त को
Dr fauzia Naseem shad
बाल कहानी - सुन्दर संदेश
SHAMA PARVEEN
गुरु पूर्णिमा
Vikas Sharma'Shivaaya'
सुनो मुरलीवाले
rkchaudhary2012
चेहरे पर चेहरे लगा लो।
Taj Mohammad
जीने की वजह
Seema 'Tu hai na'
नभ में था वो एक सितारा
Kavita Chouhan
युद्ध आह्वान
Aditya Prakash
पता नहीं तुम कौनसे जमाने की बात करते हो
Manoj Tanan
चाँद
विजय कुमार अग्रवाल
दुनिया एक मेला है
VINOD KUMAR CHAUHAN
■ कटाक्ष / कोरी क़वायद
*प्रणय प्रभात*
निज सुरक्षित भावी
AMRESH KUMAR VERMA
काश बचपन लौट आता
Anamika Singh
!! नारियों की शक्ति !!
RAJA KUMAR 'CHOURASIA'
Loading...