Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jun 2016 · 1 min read

वो करना है जो ठाना है — गज़ल्

वो करना है जो ठाना है
हर मुश्किल से टकराना है

जिस धरती पर है जन्म लिया
उसका भी कर्ज चुकाना है

दीन दुखी की सेवा करके
अब मानव धर्म कमाना है

दौलत का लालच मत करना
सब छोड़ यहीं पर जाना है

चन्द दिनों की साँसों में भी
क्या लड़ना और लड़ाना है

जीवन का भी एक गणित है
कुछ खो कर ही कुछ पाना है

जन्मों का बंधन है शादी
दोनों को कौल निभाना है

390 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अहं प्रत्येक क्षण स्वयं की पुष्टि चाहता है, नाम, रूप, स्थान
अहं प्रत्येक क्षण स्वयं की पुष्टि चाहता है, नाम, रूप, स्थान
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
"परचम"
Dr. Kishan tandon kranti
कर पुस्तक से मित्रता,
कर पुस्तक से मित्रता,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
इनको साधे सब सधें, न्यारे इनके  ठाट।
इनको साधे सब सधें, न्यारे इनके ठाट।
दुष्यन्त 'बाबा'
जब आपके आस पास सच बोलने वाले न बचे हों, तो समझिए आस पास जो भ
जब आपके आस पास सच बोलने वाले न बचे हों, तो समझिए आस पास जो भ
Sanjay ' शून्य'
जिंदगी की सड़क पर हम सभी अकेले हैं।
जिंदगी की सड़क पर हम सभी अकेले हैं।
Neeraj Agarwal
#दोहा
#दोहा
*Author प्रणय प्रभात*
नववर्ष का आगाज़
नववर्ष का आगाज़
Vandna Thakur
मेरे देश के लोग
मेरे देश के लोग
Shekhar Chandra Mitra
बारिश के गुण गाओ जी (बाल कविता)
बारिश के गुण गाओ जी (बाल कविता)
Ravi Prakash
ऐ ख़ुदा इस साल कुछ नया कर दें
ऐ ख़ुदा इस साल कुछ नया कर दें
Keshav kishor Kumar
जिधर भी देखो , हर तरफ़ झमेले ही झमेले है,
जिधर भी देखो , हर तरफ़ झमेले ही झमेले है,
_सुलेखा.
जग में उदाहरण
जग में उदाहरण
Dr fauzia Naseem shad
एक ही धरोहर के रूप - संविधान
एक ही धरोहर के रूप - संविधान
Desert fellow Rakesh
💐अज्ञात के प्रति-147💐
💐अज्ञात के प्रति-147💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
तू है एक कविता जैसी
तू है एक कविता जैसी
Amit Pathak
सच और हकीकत
सच और हकीकत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हवा बहुत सर्द है
हवा बहुत सर्द है
डॉ. श्री रमण 'श्रीपद्'
नील पदम् NEEL PADAM
नील पदम् NEEL PADAM
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
LK99 सुपरकंडक्टर की क्षमता का आकलन एवं इसके शून्य प्रतिरोध गुण के लाभकारी अनुप्रयोगों की विवेचना
LK99 सुपरकंडक्टर की क्षमता का आकलन एवं इसके शून्य प्रतिरोध गुण के लाभकारी अनुप्रयोगों की विवेचना
Shyam Sundar Subramanian
तुम न समझ पाओगे .....
तुम न समझ पाओगे .....
sushil sarna
स्वयं में ईश्वर को देखना ध्यान है,
स्वयं में ईश्वर को देखना ध्यान है,
Suneel Pushkarna
बढ़ता उम्र घटता आयु
बढ़ता उम्र घटता आयु
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
चलो कल चाय पर मुलाक़ात कर लेंगे,
चलो कल चाय पर मुलाक़ात कर लेंगे,
गुप्तरत्न
*
*"मजदूर की दो जून रोटी"*
Shashi kala vyas
श्री कृष्ण अवतार
श्री कृष्ण अवतार
डॉ विजय कुमार कन्नौजे
खून पसीने में हो कर तर बैठ गया
खून पसीने में हो कर तर बैठ गया
अरशद रसूल बदायूंनी
दो कदम का फासला ही सही
दो कदम का फासला ही सही
goutam shaw
बोल
बोल
Dr. Pradeep Kumar Sharma
तल्ख
तल्ख
shabina. Naaz
Loading...