Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2022 · 1 min read

वृद्ध जनों पर लघुकथा

वृद्ध जनों पर लघुकथा

आज के भागम भाग वाली जिंदगी में किसी को फुर्सत ही कहां है।
की वृद्ध लोगों के पास बैठे ,उनसे बातें करें उनकी भावनाए समझें,
वो भी सभी का सानिध्य चाहते हैं ये उम्र ही ऐसी होती है शरीर भी शिथिल हो जाता है।
इसलिए सभी बच्चों को चाहिए कि वृद्धों की कीमत समझें,
उनकी सेवा करें, उनको भी अपना अमूल्य वक्त दें—–
बहुत जरूरत होती है इस उम्र में अपनों की,
सभी को इस पथ से गुजरना है।
हम भी सदा जवां नहीं बने रहेंगे,
यही सोच कर वृद्धों का सम्मान करें!!
उनको अपने पर बोझ मत समझें।
बुजुर्गों से ही घर की रौनक होती है
चाहे वो घर में बैठे ही रहें।
एक बुजुर्ग से ही घर गुलज़ार होता है,
वही तो हमारे बागवां के पेड़ हैं–
हम तो डालियां है,पेड़ गिर जायेगा तो डालियों का कोई मूल्य नहीं।
इसीलिए कहते हैं वक्त रहते सचेत हो जायें,और सुख से रहकर बुजुर्गों को मान,इज्जत, सम्मान दें।
वृद्धाश्रम तो कभी भी मत ले जाना,
सोच लेना,कल को आपके साथ यदि ऐसा हो तो!!!!!!
बुजुर्गों को अपना प्यार दो,और उनको ही अपना पथगामी समझो—–
जिंदगी खुशियों से भरी रहेगी
और हमेशा अग्रसर होंगे इस जीवन की नदियां से वही हमारी नाव के नाविक हैं
खैवनहार हैं!!!!!

सुषमा सिंह *उर्मि,,
कानपुर

Language: Hindi
538 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Sushma Singh
View all
You may also like:
★गहने ★
★गहने ★
★ IPS KAMAL THAKUR ★
"तोल के बोल"
Dr. Kishan tandon kranti
"गेंम-वर्ल्ड"
*Author प्रणय प्रभात*
*नया साल*
*नया साल*
Dushyant Kumar
2830. *पूर्णिका*
2830. *पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
आ जाओ
आ जाओ
हिमांशु Kulshrestha
आने वाले कल का ना इतना इंतजार करो ,
आने वाले कल का ना इतना इंतजार करो ,
Neerja Sharma
हे नाथ आपकी परम कृपा से, उत्तम योनि पाई है।
हे नाथ आपकी परम कृपा से, उत्तम योनि पाई है।
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
शाम
शाम
N manglam
जज़्बा है, रौशनी है
जज़्बा है, रौशनी है
Dhriti Mishra
मुफ़लिसों को बांटिए खुशियां खुशी से।
मुफ़लिसों को बांटिए खुशियां खुशी से।
सत्य कुमार प्रेमी
श्री राम राज्याभिषेक
श्री राम राज्याभिषेक
नवीन जोशी 'नवल'
Iss chand ke diwane to sbhi hote hai
Iss chand ke diwane to sbhi hote hai
Sakshi Tripathi
मुझमें एक जन सेवक है,
मुझमें एक जन सेवक है,
Punam Pande
*क्या हाल-चाल हैं ? (हास्य व्यंग्य)*
*क्या हाल-चाल हैं ? (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
फ़ासले जब भी
फ़ासले जब भी
Dr fauzia Naseem shad
I guess afterall, we don't search for people who are exactly
I guess afterall, we don't search for people who are exactly
पूर्वार्थ
गुरुकुल शिक्षा पद्धति
गुरुकुल शिक्षा पद्धति
विजय कुमार अग्रवाल
जाने कहा गये वो लोग
जाने कहा गये वो लोग
Abasaheb Sarjerao Mhaske
आईना
आईना
Dr Parveen Thakur
💐प्रेम कौतुक-542💐
💐प्रेम कौतुक-542💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
मैं तुझे खुदा कर दूं।
मैं तुझे खुदा कर दूं।
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
चढ़ा हूँ मैं गुमनाम, उन सीढ़ियों तक
चढ़ा हूँ मैं गुमनाम, उन सीढ़ियों तक
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
दौलत नहीं, शोहरत नहीं
दौलत नहीं, शोहरत नहीं
Ranjeet kumar patre
जिंदगी एक भंवर है
जिंदगी एक भंवर है
Harminder Kaur
दुविधा
दुविधा
Shyam Sundar Subramanian
मुस्कुराहट
मुस्कुराहट
Santosh Shrivastava
रक्षाबंधन
रक्षाबंधन
Pratibha Pandey
लम्हे
लम्हे
Dr. Ramesh Kumar Nirmesh
Don't Give Up..
Don't Give Up..
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
Loading...