Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
3 Jun 2023 · 1 min read

वसंत पंचमी

पीली पीली सरसौं फूली
पीली उडी पतंग।
मन प्रमुदित हो रहा
छाई बसंत तरंग।।
माँ शारदे वीणावादिनी
स्तुति से दिवस प्रारम्भ।
जिनकी वंदना बिन
हर स्वर जैसे बिना मृदंग।।

Language: Hindi
273 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Bodhisatva kastooriya
View all
You may also like:
दोहे-
दोहे-
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
चार कंधों पर मैं जब, वे जान जा रहा था
चार कंधों पर मैं जब, वे जान जा रहा था
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
एक पल में ये अशोक बन जाता है
एक पल में ये अशोक बन जाता है
ruby kumari
हम इतने भी बुरे नही,जितना लोगो ने बताया है
हम इतने भी बुरे नही,जितना लोगो ने बताया है
Ram Krishan Rastogi
आरती करुँ विनायक की
आरती करुँ विनायक की
gurudeenverma198
-- क्लेश तब और अब -
-- क्लेश तब और अब -
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
सत्य की खोज
सत्य की खोज
SHAMA PARVEEN
■ स्वाद के छह रसों में एक रस
■ स्वाद के छह रसों में एक रस "कड़वा" भी है। जिसे सहज स्वीकारा
*Author प्रणय प्रभात*
// होली में ......
// होली में ......
Chinta netam " मन "
मगरूर क्यों हैं
मगरूर क्यों हैं
Mamta Rani
15)”शिक्षक”
15)”शिक्षक”
Sapna Arora
हिन्दी में ग़ज़ल की औसत शक़्ल? +रमेशराज
हिन्दी में ग़ज़ल की औसत शक़्ल? +रमेशराज
कवि रमेशराज
If you migrate to search JOBS
If you migrate to search JOBS
Ankita Patel
कुछ बिखरे ख्यालों का मजमा
कुछ बिखरे ख्यालों का मजमा
Dr. Harvinder Singh Bakshi
सृजन पथ पर
सृजन पथ पर
Dr. Meenakshi Sharma
*अज्ञानी की कलम*
*अज्ञानी की कलम*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
साधु की दो बातें
साधु की दो बातें
Dr. Pradeep Kumar Sharma
सरस्वती वंदना । हे मैया ,शारदे माँ
सरस्वती वंदना । हे मैया ,शारदे माँ
Kuldeep mishra (KD)
डर  ....
डर ....
sushil sarna
सरेआम जब कभी मसअलों की बात आई
सरेआम जब कभी मसअलों की बात आई
Maroof aalam
*मेरी इच्छा*
*मेरी इच्छा*
Dushyant Kumar
राखी सांवन्त
राखी सांवन्त
DR ARUN KUMAR SHASTRI
रानी लक्ष्मीबाई का मेरे स्वप्न में आकर मुझे राष्ट्र सेवा के लिए प्रेरित करना ......(निबंध) सर्वाधिकार सुरक्षित
रानी लक्ष्मीबाई का मेरे स्वप्न में आकर मुझे राष्ट्र सेवा के लिए प्रेरित करना ......(निबंध) सर्वाधिकार सुरक्षित
पंकज कुमार शर्मा 'प्रखर'
Typing mistake
Typing mistake
Otteri Selvakumar
कानून?
कानून?
nagarsumit326
"चलना"
Dr. Kishan tandon kranti
चलो कुछ दूर तलक चलते हैं
चलो कुछ दूर तलक चलते हैं
Bodhisatva kastooriya
*कभी होती अमावस्या ,कभी पूनम कहाती है 【मुक्तक】*
*कभी होती अमावस्या ,कभी पूनम कहाती है 【मुक्तक】*
Ravi Prakash
मेरी मायूस सी
मेरी मायूस सी
Dr fauzia Naseem shad
ऐ महबूब
ऐ महबूब
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
Loading...