Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
6 May 2024 · 1 min read

लोग शोर करते रहे और मैं निस्तब्ध बस सांस लेता रहा,

लोग शोर करते रहे और मैं निस्तब्ध बस सांस लेता रहा,
मेरी ज़िंदगी एक तमाशे के अलावा और कुछ भी नहीं था

©️ डॉ. शशांक शर्मा “रईस”

45 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
22)”शुभ नवरात्रि”
22)”शुभ नवरात्रि”
Sapna Arora
हर वक़्त तुम्हारी कमी सताती है
हर वक़्त तुम्हारी कमी सताती है
shabina. Naaz
बहे संवेदन रुप बयार🙏
बहे संवेदन रुप बयार🙏
तारकेश्‍वर प्रसाद तरुण
सरेआम जब कभी मसअलों की बात आई
सरेआम जब कभी मसअलों की बात आई
Maroof aalam
किसी का खौफ नहीं, मन में..
किसी का खौफ नहीं, मन में..
अरशद रसूल बदायूंनी
शब्द
शब्द
Dr. Mahesh Kumawat
न जाने शोख हवाओं ने कैसी
न जाने शोख हवाओं ने कैसी
Anil Mishra Prahari
प्यार
प्यार
लक्ष्मी सिंह
"सूनी मांग" पार्ट-2
Radhakishan R. Mundhra
वार
वार
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
सुबह-सुबह की लालिमा
सुबह-सुबह की लालिमा
Neeraj Agarwal
धरा
धरा
Kavita Chouhan
।। सुविचार ।।
।। सुविचार ।।
विनोद कृष्ण सक्सेना, पटवारी
कभी कभी मौन रहने के लिए भी कम संघर्ष नहीं करना पड़ता है।
कभी कभी मौन रहने के लिए भी कम संघर्ष नहीं करना पड़ता है।
Paras Nath Jha
यारा  तुम  बिन गुजारा नही
यारा तुम बिन गुजारा नही
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
वह तोड़ती पत्थर / ©मुसाफ़िर बैठा
वह तोड़ती पत्थर / ©मुसाफ़िर बैठा
Dr MusafiR BaithA
सारे निशां मिटा देते हैं।
सारे निशां मिटा देते हैं।
Taj Mohammad
Wakt ke pahredar
Wakt ke pahredar
Sakshi Tripathi
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
Ravi Prakash
फितरत
फितरत
Awadhesh Kumar Singh
मैं इस दुनिया का सबसे बुरा और मुर्ख आदमी हूँ
मैं इस दुनिया का सबसे बुरा और मुर्ख आदमी हूँ
Jitendra kumar
■ ट्रिक
■ ट्रिक
*प्रणय प्रभात*
"मैं" एहसास ऐ!
Harminder Kaur
न छीनो मुझसे मेरे गम
न छीनो मुझसे मेरे गम
Mahesh Tiwari 'Ayan'
2731.*पूर्णिका*
2731.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कोई शुहरत का मेरी है, कोई धन का वारिस
कोई शुहरत का मेरी है, कोई धन का वारिस
Sarfaraz Ahmed Aasee
हमारी फीलिंग्स भी बिल्कुल
हमारी फीलिंग्स भी बिल्कुल
Sunil Maheshwari
रिश्ते
रिश्ते
Mamta Rani
दो दोहे
दो दोहे
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
रिश्तों को निभा
रिश्तों को निभा
Dr fauzia Naseem shad
Loading...