Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Jan 2023 · 1 min read

लड़खड़ाने से न डर

जज्बा क़ायम जिंदगी में,
मुश्किलों की क्यों फिकर।
गर सम्भलना सीखना है,
लड़खड़ाने से न डर।

सतीश सृजन, लखनऊ.

Language: Hindi
Tag: शेर
1 Like · 34 Views
You may also like:
कभी भी ग़म के अँधेरों  से तुम नहीं डरना
कभी भी ग़म के अँधेरों से तुम नहीं डरना
Dr Archana Gupta
देखकर सूरत खूबसूरत
देखकर सूरत खूबसूरत
gurudeenverma198
मुहब्बत का ईनाम क्यों दे दिया।
मुहब्बत का ईनाम क्यों दे दिया।
सत्य कुमार प्रेमी
अब कितना कुछ और सहा जाए-
अब कितना कुछ और सहा जाए-
डी. के. निवातिया
एतबार उस पर इतना था
एतबार उस पर इतना था
Dr fauzia Naseem shad
जन्नत चाहिए तो जान लगा दे
जन्नत चाहिए तो जान लगा दे
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
■ #यादों_का_आईना
■ #यादों_का_आईना
*Author प्रणय प्रभात*
अजनबी सा लगता है मुझे अब हर एक शहर
अजनबी सा लगता है मुझे अब हर एक शहर
'अशांत' शेखर
इश्क का तुमसे जब सिलसिला हो गया।
इश्क का तुमसे जब सिलसिला हो गया।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
मृदुल कीर्ति जी का गद्यकोष एव वैचारिक ऊर्जा
मृदुल कीर्ति जी का गद्यकोष एव वैचारिक ऊर्जा
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
मैं कितनी नादान थी
मैं कितनी नादान थी
Shekhar Chandra Mitra
क्लास विच हिन्दी बोलनी चाहिदी
क्लास विच हिन्दी बोलनी चाहिदी
विनोद सिल्ला
हर स्नेह के प्रति, दिल में दुआएं रखना
हर स्नेह के प्रति, दिल में दुआएं रखना
Er.Navaneet R Shandily
"शिवाजी और उनके द्वारा किए समाज सुधार के कार्य"
Pravesh Shinde
*मेरी इच्छा*
*मेरी इच्छा*
Dushyant Kumar
" माँ "
Dr. Kishan tandon kranti
खंड 7
खंड 7
Rambali Mishra
प्रेम समर्पण की अनुपम पराकाष्ठा है।
प्रेम समर्पण की अनुपम पराकाष्ठा है।
सुनील कुमार
तू रुक ना पायेगा ।
तू रुक ना पायेगा ।
Buddha Prakash
शेयर मार्केट में पैसा कैसे डूबता है ?
शेयर मार्केट में पैसा कैसे डूबता है ?
Rakesh Bahanwal
आया क़िसमिस का त्यौहार
आया क़िसमिस का त्यौहार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय मैथिली
जनगणना मे मैथिली / Maithili in Population Census / जय...
Binit Thakur (विनीत ठाकुर)
*शातिर चोर (हास्य कुंडलिया)*
*शातिर चोर (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
Tumko pane ki hasrat hi to thi ,
Tumko pane ki hasrat hi to thi ,
Sakshi Tripathi
मैं और मेरा यार
मैं और मेरा यार
Radha jha
मैं धरा सी
मैं धरा सी
Surinder blackpen
इक मुद्दत से चल रहे है।
इक मुद्दत से चल रहे है।
Taj Mohammad
बालगीत - सर्दी आई
बालगीत - सर्दी आई
Kanchan Khanna
🌴🌺तुम्हारे चेहरे पर कमल खिला देखा मैंने🌺🌴
🌴🌺तुम्हारे चेहरे पर कमल खिला देखा मैंने🌺🌴
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दाता
दाता
निकेश कुमार ठाकुर
Loading...