Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
5 Feb 2023 · 1 min read

रात एक खिड़की है

रात एक खिड़की है,और
खिड़की के उस पार
कुछ ख्वाब,
आधे अधुरे
खिड़की से अंदर आती
शीतल चांदनी
मखमली सपनों की चादर फैलाती, चांदनी
हौले से मेरे सर को सहलाती ,चांदनी।
नये नये से ख्वाब दिखलाती
ये रात की खिड़की।

सुरिंदर कौर

Language: Hindi
159 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Surinder blackpen
View all
You may also like:
मुक्तक... हंसगति छन्द
मुक्तक... हंसगति छन्द
डॉ.सीमा अग्रवाल
दोहे - झटपट
दोहे - झटपट
Mahender Singh
गम के बादल गये, आया मधुमास है।
गम के बादल गये, आया मधुमास है।
सत्य कुमार प्रेमी
2867.*पूर्णिका*
2867.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
कभी कभी ज़िंदगी में लिया गया छोटा निर्णय भी बाद के दिनों में
कभी कभी ज़िंदगी में लिया गया छोटा निर्णय भी बाद के दिनों में
Paras Nath Jha
खिचड़ी,तिल अरु वस्त्र का, करो हृदय से दान
खिचड़ी,तिल अरु वस्त्र का, करो हृदय से दान
Dr Archana Gupta
तुम्हें क्या लाभ होगा, ईर्ष्या करने से
तुम्हें क्या लाभ होगा, ईर्ष्या करने से
gurudeenverma198
पिता की आंखें
पिता की आंखें
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
■ देश मांगे जवाब
■ देश मांगे जवाब
*Author प्रणय प्रभात*
फ़ितरत-ए-दिल की मेहरबानी है ।
फ़ितरत-ए-दिल की मेहरबानी है ।
Neelam Sharma
मन को समझाने
मन को समझाने
sushil sarna
आखिरी उम्मीद
आखिरी उम्मीद
Surya Barman
पीते हैं आओ चलें , चलकर कप-भर चाय (कुंडलिया)
पीते हैं आओ चलें , चलकर कप-भर चाय (कुंडलिया)
Ravi Prakash
🌺उनकी जुस्तजू का पाबंद हूँ मैं🌺
🌺उनकी जुस्तजू का पाबंद हूँ मैं🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
दिल शीशे सा
दिल शीशे सा
Neeraj Agarwal
मित्रता दिवस पर एक खत दोस्तो के नाम
मित्रता दिवस पर एक खत दोस्तो के नाम
Ram Krishan Rastogi
अजदहा बनके आया मोबाइल
अजदहा बनके आया मोबाइल
Anis Shah
*अज्ञानी की कलम  *शूल_पर_गीत*
*अज्ञानी की कलम *शूल_पर_गीत*
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी
सत्य ही शिव
सत्य ही शिव
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
*हिंदी हमारी शान है, हिंदी हमारा मान है*
*हिंदी हमारी शान है, हिंदी हमारा मान है*
Dushyant Kumar
*हुई हम से खता,फ़ांसी नहीं*
*हुई हम से खता,फ़ांसी नहीं*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
जिंदगी में गम ना हो तो क्या जिंदगी
जिंदगी में गम ना हो तो क्या जिंदगी
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
ग़ुमनाम जिंदगी
ग़ुमनाम जिंदगी
Awadhesh Kumar Singh
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
कुछ ख्वाब
कुछ ख्वाब
Rashmi Ratn
प्यार और मोहब्बत नहीं, इश्क है तुमसे
प्यार और मोहब्बत नहीं, इश्क है तुमसे
पूर्वार्थ
अनुभव एक ताबीज है
अनुभव एक ताबीज है
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
सत्य जब तक
सत्य जब तक
Shweta Soni
कॉलेज वाला प्यार
कॉलेज वाला प्यार
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
जिन्दगी से शिकायत न रही
जिन्दगी से शिकायत न रही
Anamika Singh
Loading...