Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Feb 2023 · 1 min read

ये छुटपुट कोहरा छिपा नही सकता आफ़ताब को

ये छुटपुट कोहरा छिपा नही सकता आफ़ताब को
अस्सल किरदार उतार देता है चेहरे से नक़ाब को

⚪️ ‘अशांत’ शेखर
07/02/2023

1 Like · 2 Comments · 174 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
नीरोगी काया
नीरोगी काया
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
हम उस पीढ़ी के लोग है
हम उस पीढ़ी के लोग है
Indu Singh
तू गीत ग़ज़ल उन्वान प्रिय।
तू गीत ग़ज़ल उन्वान प्रिय।
Neelam Sharma
आज भी अधूरा है
आज भी अधूरा है
Pratibha Pandey
यादों के संसार की,
यादों के संसार की,
sushil sarna
कश्मीर में चल रहे जवानों और आतंकीयो के बिच मुठभेड़
कश्मीर में चल रहे जवानों और आतंकीयो के बिच मुठभेड़
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
आजादी की चाहत
आजादी की चाहत
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
केना  बुझब  मित्र आहाँ केँ कहियो नहिं गप्प केलहूँ !
केना बुझब मित्र आहाँ केँ कहियो नहिं गप्प केलहूँ !
DrLakshman Jha Parimal
तुम हज़ार बातें कह लो, मैं बुरा न मानूंगा,
तुम हज़ार बातें कह लो, मैं बुरा न मानूंगा,
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
है जरूरी हो रहे
है जरूरी हो रहे
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
क्या एक बार फिर कांपेगा बाबा केदारनाथ का धाम
क्या एक बार फिर कांपेगा बाबा केदारनाथ का धाम
Rakshita Bora
इंतज़ार मिल जाए
इंतज़ार मिल जाए
Dr fauzia Naseem shad
क़िस्मत का सौदा करने चली थी वो,
क़िस्मत का सौदा करने चली थी वो,
डॉ. शशांक शर्मा "रईस"
Watch who is there for you even when the birds have gone sil
Watch who is there for you even when the birds have gone sil
पूर्वार्थ
दृढ़ निश्चय
दृढ़ निश्चय
विजय कुमार अग्रवाल
इतनी वफ़ादारी ना कर किसी से मदहोश होकर,
इतनी वफ़ादारी ना कर किसी से मदहोश होकर,
शेखर सिंह
है शिव ही शक्ति,शक्ति ही शिव है
है शिव ही शक्ति,शक्ति ही शिव है
sudhir kumar
"" *तथता* "" ( महात्मा बुद्ध )
सुनीलानंद महंत
गीत गाऊ
गीत गाऊ
Kushal Patel
जिंदगी कभी रुकती नहीं, वो तो
जिंदगी कभी रुकती नहीं, वो तो
Befikr Lafz
राम नाम
राम नाम
पंकज प्रियम
2853.*पूर्णिका*
2853.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
सोच
सोच
Neeraj Agarwal
यही है हमारी मनोकामना माँ
यही है हमारी मनोकामना माँ
Dr Archana Gupta
नादानी
नादानी
Shaily
पत्थर की अभिलाषा
पत्थर की अभिलाषा
Shyam Sundar Subramanian
दिवाली
दिवाली
नूरफातिमा खातून नूरी
"प्यार की कहानी "
Pushpraj Anant
जबकि ख़ाली हाथ जाना है सभी को एक दिन,
जबकि ख़ाली हाथ जाना है सभी को एक दिन,
Shyam Vashishtha 'शाहिद'
#लघुकथा-
#लघुकथा-
*प्रणय प्रभात*
Loading...