Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
30 Jul 2023 · 1 min read

यूं हर हर क़दम-ओ-निशां पे है ज़िल्लतें

यूं हर हर क़दम-ओ-निशां पे है ज़िल्लतें
चलते मुसाफ़िर में काश रहती मिन्नतें

डोर बंधी इन सांसों की रागों से,
फ़कत रूबरू हुए रूह की धागों से।

जिस्म की खुबियां है कुछ ऐसी ,
दिखते दिल पे नासूर जैसी….

हर मर्तबा सोचती फिरूं लम्हा-लम्हा ,,
न दुआ-ओ-दवा न हमदर्द खड़े हम तन्हा तन्ह

जिस्त की सुनवाई , न मिटे बंदिशें इन दाग़ों से
ये कमाल है गर्दिशें जब ज़ख़्म भी बएदआग़ से।
_©अलिशायरा🦋

1 Like · 237 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
किसी से प्यार, हमने भी किया था थोड़ा - थोड़ा
किसी से प्यार, हमने भी किया था थोड़ा - थोड़ा
The_dk_poetry
खूबसूरत लम्हें जियो तो सही
खूबसूरत लम्हें जियो तो सही
Harminder Kaur
#Dr Arun Kumar shastri
#Dr Arun Kumar shastri
DR ARUN KUMAR SHASTRI
लार्जर देन लाइफ होने लगे हैं हिंदी फिल्मों के खलनायक -आलेख
लार्जर देन लाइफ होने लगे हैं हिंदी फिल्मों के खलनायक -आलेख
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
* बुढ़ापा आ गया वरना, कभी स्वर्णिम जवानी थी【मुक्तक】*
* बुढ़ापा आ गया वरना, कभी स्वर्णिम जवानी थी【मुक्तक】*
Ravi Prakash
सुनो जीतू,
सुनो जीतू,
Jitendra kumar
ज़ुल्फो उड़ी तो काली घटा कह दिया हमने।
ज़ुल्फो उड़ी तो काली घटा कह दिया हमने।
Phool gufran
भूमि दिवस
भूमि दिवस
SATPAL CHAUHAN
3244.*पूर्णिका*
3244.*पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
"वादा" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
Ishq - e - Ludo with barcelona Girl
Ishq - e - Ludo with barcelona Girl
Rj Anand Prajapati
#लघुकविता-
#लघुकविता-
*Author प्रणय प्रभात*
हे पिता ! जबसे तुम चले गए ...( पिता दिवस पर विशेष)
हे पिता ! जबसे तुम चले गए ...( पिता दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
World Tobacco Prohibition Day
World Tobacco Prohibition Day
Tushar Jagawat
जिंदगी
जिंदगी
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
द्रुत विलम्बित छंद (गणतंत्रता दिवस)-'प्यासा
द्रुत विलम्बित छंद (गणतंत्रता दिवस)-'प्यासा"
Vijay kumar Pandey
कट रही हैं दिन तेरे बिन
कट रही हैं दिन तेरे बिन
Shakil Alam
सच तो रंग होते हैं।
सच तो रंग होते हैं।
Neeraj Agarwal
अगर आप में व्यर्थ का अहंकार है परन्तु इंसानियत नहीं है; तो म
अगर आप में व्यर्थ का अहंकार है परन्तु इंसानियत नहीं है; तो म
विमला महरिया मौज
प्यार विश्वाश है इसमें कोई वादा नहीं होता!
प्यार विश्वाश है इसमें कोई वादा नहीं होता!
Diwakar Mahto
"स्वप्न".........
Kailash singh
हवाओं ने पतझड़ में, साजिशों का सहारा लिया,
हवाओं ने पतझड़ में, साजिशों का सहारा लिया,
Manisha Manjari
कुछ लोग बात तो बहुत अच्छे कर लेते हैं, पर उनकी बातों में विश
कुछ लोग बात तो बहुत अच्छे कर लेते हैं, पर उनकी बातों में विश
जय लगन कुमार हैप्पी
हमारी निशानी मिटा कर तुम नई कहानी बुन लेना,
हमारी निशानी मिटा कर तुम नई कहानी बुन लेना,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
मेरा स्वप्नलोक
मेरा स्वप्नलोक
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
नौजवान सुभाष
नौजवान सुभाष
Aman Kumar Holy
*इश्क़ से इश्क़*
*इश्क़ से इश्क़*
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
*सीता नवमी*
*सीता नवमी*
Shashi kala vyas
अंगुलिया
अंगुलिया
Sandeep Pande
सूर्य देव
सूर्य देव
Bodhisatva kastooriya
Loading...