Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Jul 2016 · 2 min read

यूँ ही कभी कभी

१.
दिले-ऐ-नादान को सुकून की तलाश है
जो बंद है तेरे चन्द अल्फाजों के भीतर |

२.
दीदार-ऐ-यार को तरस रही थी आँखें
तेरी तस्वीर देख के कुछ सुकून आया |

३.
हर सांस के साथ एक आह सी निकलती है
तेरे चेहरे पे जब मायूसी का आलम होता है |

४.
फ़रिश्ते मंडरा रहे थे मेरी जाँ ले जाने को
आब-ऐ-हयात बनकर तेरी दुआ आ गयी |

५.
तेरी एक अदद मुस्कराहट का तलबगार है ये दिल
कानों को तेरी बढ़ी हुई धडकनों ने बेचैन किया है |

६.
तुझसे दूरी का सोचना भी दिल को तकलीफ देता है
तुम हो की बात बात पर दूर जाने की बात करते हो |

७.
तुमने जो जज़्बात छुपाये हैं मुखौटे के पीछे
बता दो तुम्हारी इस बेरुखी की वजह क्या है |

८.
तुझे क्या मालूम कितना कितना डरते हैं तुझे खोने से
हर सांस पे जान निकलती है तुझे खोने के एहसास से |

९.
तुम जा तो रहे हो मुझसे मुंह फेरकर
क्या हो अगर हम फिर दिखे ही नहीं |

१०.
हालातों के हाथों मजबूर खिलौना हूँ मैं
वर्ना छीन लिया होता तुझे जहां वालों से |

११.
तुझे खबर है अपनी जान का दुश्मन नहीं हो सकता मैं
मेरी जान अमानत है तेरी जो मेरे पास महफूज रखी है |

१२.
मुहूर्त निकला है घर जा के बयाँ करेंगे दिल के जज़्बात
क्या हो ग़र खुदा ने मुझे मोहलत ही न दी तेरे जाने तक |

१३.
मेरे खुदा मुझे मोहलत बख्श देना चन्द लम्हातों की
मैं निगहबान हूँ मेरी जान अमानत है किसी और की |

“सन्दीप कुमार”

मेरा ब्लॉग : https://sandeip01.blogspot.in/2016/06/blog-post_14.html?spref=fb

Language: Hindi
Tag: शेर
354 Views
You may also like:
शायरी संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
मिसाल और मशाल
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
खामोशियों ने हीं शब्दों से संवारा है मुझे।
Manisha Manjari
तम भरे मन में उजाला आज करके देख लेना!!
संजीव शुक्ल 'सचिन'
कराहती धरती (पृथ्वी दिवस पर)
डॉ. शिव लहरी
पिता जी का आशीर्वाद है !
Kuldeep mishra (KD)
मांँ की लालटेन
श्री रमण 'श्रीपद्'
मन ही बंधन - मन ही मोक्ष
Rj Anand Prajapati
वतन के रखवाले
Shekhar Chandra Mitra
ऐ बादल अब तो बरस जाओ ना
नूरफातिमा खातून नूरी
चोट मैं भी खायें हैं , तेरे इश्क में काफ़िर
Manoj Kumar
तेरा मेरा नाता
Alok Saxena
'धरती माँ'
Godambari Negi
पत्रकार
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
ज़िंदगी मायने बदल देगी
Dr fauzia Naseem shad
💐💐प्रेम की राह पर-62💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
✍️कभी कभी
'अशांत' शेखर
Love Heart
Buddha Prakash
हर सिम्त यहाँ...
अश्क चिरैयाकोटी
पैसों के रिश्ते
Vikas Sharma'Shivaaya'
सेतुबंध रामेश्वर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
राम राम
Sunita Gupta
300 वर्ष की आयु : आश्चर्यजनक किंतु सत्य (लेख)
Ravi Prakash
चांद
Annu Gurjar
कलयुग का आरम्भ है।
Taj Mohammad
आजादी के दीवानों ने
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
*నమో గణేశ!*
विजय कुमार 'विजय'
“ फेसबुक के दिग्गज ”
DrLakshman Jha Parimal
बचपन की यादें
Anamika Singh
एक पत्र बच्चों के लिए
Manu Vashistha
Loading...