Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Apr 2023 · 1 min read

हो जाऊं तेरी!

हो जाऊं तेरी!
खो जाऊं तुझमे मेरा जी करता है
हो जाऊं तेरी, मेरी रूह कहती है।
प्यार में मेरी जान,तू मेरा ख़ुदा हो गया
न जाने कब कैसे मेरी जान बन गया।तेरे गुज़रे हर रास्ते पर नज़र रुक जाती
तेरे कदमों की मिट्टी को रहती हूं चूमती
मेरी नैनों का नज़ारा तू,
मेरे जीने की वजह भी तू।
क्या करूँ बयान मेरी शायरी के हर अल्फ़ाज़ में तू।
मेरी कहानी के हर पन्ने में बस्ती पूरी हकीकत है तू।
खुद को तुझमे खोया तब जाके तुझे पाया है,
मेरी जान बरसों की तपस्या के बाद खुद को तेरा पाया है।
मुझे तू कोई नाम दे या न दे,मेरी जान बस मेरा रहना,
कोई पहरा नहीं तुझपर, जाने से पहले मुझे बताकर जाना।

Language: Hindi
3 Likes · 1 Comment · 283 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
सुंदरता के मायने
सुंदरता के मायने
Surya Barman
*दायरे*
*दायरे*
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बे-ख़ुद
बे-ख़ुद
Shyam Sundar Subramanian
ऐसे न देख पगली प्यार हो जायेगा ..
ऐसे न देख पगली प्यार हो जायेगा ..
Yash mehra
शहीदे आजम भगत सिंह की जीवन यात्रा
शहीदे आजम भगत सिंह की जीवन यात्रा
Ravi Yadav
मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…
मुहब्बत कुछ इस कदर, हमसे बातें करती है…
Anand Kumar
■ आदिकाल से प्रचलित एक कारगर नुस्खा।।
■ आदिकाल से प्रचलित एक कारगर नुस्खा।।
*Author प्रणय प्रभात*
"नींद की तलाश"
Pushpraj Anant
वक्त नहीं
वक्त नहीं
Vandna Thakur
शिव ही बनाते हैं मधुमय जीवन
शिव ही बनाते हैं मधुमय जीवन
कवि रमेशराज
गमों की चादर ओढ़ कर सो रहे थे तन्हां
गमों की चादर ओढ़ कर सो रहे थे तन्हां
Kumar lalit
ओ लहर बहती रहो …
ओ लहर बहती रहो …
Rekha Drolia
💐 *दोहा निवेदन*💐
💐 *दोहा निवेदन*💐
भवानी सिंह धानका 'भूधर'
जिस प्रकार लोहे को सांचे में ढालने पर उसका  आकार बदल  जाता ह
जिस प्रकार लोहे को सांचे में ढालने पर उसका आकार बदल जाता ह
Jitendra kumar
बादल और बरसात
बादल और बरसात
Neeraj Agarwal
23/155.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
23/155.*छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
पात उगेंगे पुनः नये,
पात उगेंगे पुनः नये,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
बस नेक इंसान का नाम
बस नेक इंसान का नाम
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
हां मैंने ख़ुद से दोस्ती की है
हां मैंने ख़ुद से दोस्ती की है
Sonam Puneet Dubey
" मेरा रत्न "
Dr Meenu Poonia
उल्फत अय्यार होता है कभी कबार
उल्फत अय्यार होता है कभी कबार
Vansh Agarwal
"भुला ना सके"
Dr. Kishan tandon kranti
ज़िंदगी खुद ब खुद
ज़िंदगी खुद ब खुद
Dr fauzia Naseem shad
नर जीवन
नर जीवन
नवीन जोशी 'नवल'
Maine apne samaj me aurto ko tutate dekha hai,
Maine apne samaj me aurto ko tutate dekha hai,
Sakshi Tripathi
शाम ढलते ही
शाम ढलते ही
Davina Amar Thakral
सृष्टि रचेता
सृष्टि रचेता
RAKESH RAKESH
अंत समय
अंत समय
Vandna thakur
दिल से दिल गर नहीं मिलाया होली में।
दिल से दिल गर नहीं मिलाया होली में।
सत्य कुमार प्रेमी
सिकन्दर बन कर क्या करना
सिकन्दर बन कर क्या करना
Satish Srijan
Loading...