Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
23 Jan 2023 · 1 min read

मैं आजादी तुमको दूंगा,

मैं आजादी तुमको दूंगा,
कुछ लोग लहू मुझको दे दो।
वो कहता सुनो देश वालों,
संघर्ष करो दुश्मन खेदो।

संघर्ष से आत्मविश्वास मिले,
संघर्ष ही मनुज बनाता है।
संघर्ष डगर पर जो निकले,
अति साहस खुद में पाता है।

अन्यायी के अन्याय से भी,
अन्याय सहन अपराध बड़ा।
याचना नहीं संघर्ष करो,
जीतेगा जो जिद आन खड़ा।

हिंसक से बात अहिंसा की,
आशा करना बेमानी है।
अनुनय से भीख तो मिलती,
आजादी लड़कर पानी है।

जय हिंद की नारा दिया हमें,
अजाद हिन्द दल तैयार किया।
अगुवा बन करके निकल पड़ा,
सर्वस्व देश पर वार दिया।

जाने कितने आजादी के,
दीवाने फांसी झूल गए।
सत्ता में बैठे शासकगण,
उन सब वीरों को भूल गए।

माँ भारत के महावीरों में,
यह बोष भी बहुत दुलारा है।
नेता सुभाष को झुक करके,
श्रद्धा से नमन हमारा है।

Language: Hindi
1 Like · 153 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
Books from Satish Srijan
View all
You may also like:
24/238. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
24/238. *छत्तीसगढ़ी पूर्णिका*
Dr.Khedu Bharti
औरत की हँसी
औरत की हँसी
Dr MusafiR BaithA
"चाहत का सफर"
Dr. Kishan tandon kranti
Bhagwan sabki sunte hai...
Bhagwan sabki sunte hai...
Vandana maurya
*सुंदर लाल इंटर कॉलेज में विद्यार्थी जीवन*
*सुंदर लाल इंटर कॉलेज में विद्यार्थी जीवन*
Ravi Prakash
💐प्रेम कौतुक-273💐
💐प्रेम कौतुक-273💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सितम गर हुआ है।
सितम गर हुआ है।
Taj Mohammad
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
4-मेरे माँ बाप बढ़ के हैं भगवान से
Ajay Kumar Vimal
मेरा ब्लॉग अपडेट दिनांक 2 अक्टूबर 2023
मेरा ब्लॉग अपडेट दिनांक 2 अक्टूबर 2023
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जुल्मतों के दौर में
जुल्मतों के दौर में
Shekhar Chandra Mitra
मुझे ना छेड़ अभी गर्दिशे -ज़माने तू
मुझे ना छेड़ अभी गर्दिशे -ज़माने तू
shabina. Naaz
दोस्ती
दोस्ती
Neeraj Agarwal
पिला रही हो दूध क्यों,
पिला रही हो दूध क्यों,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
लहरों पर चलता जीवन
लहरों पर चलता जीवन
मनोज कर्ण
Badalo ki chirti hui meri khahish
Badalo ki chirti hui meri khahish
Sakshi Tripathi
मोहब्बत, हर किसी के साथ में नहीं होती
मोहब्बत, हर किसी के साथ में नहीं होती
Vishal babu (vishu)
जीवन दुखों से भरा है जीवन के सभी पक्षों में दुख के बीज सम्मि
जीवन दुखों से भरा है जीवन के सभी पक्षों में दुख के बीज सम्मि
Ms.Ankit Halke jha
दूर जा चुका है वो फिर ख्वाबों में आता है
दूर जा चुका है वो फिर ख्वाबों में आता है
Surya Barman
रिवायत
रिवायत
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
प्राचीन दोस्त- निंब
प्राचीन दोस्त- निंब
दिनेश एल० "जैहिंद"
जितना अता किया रब,
जितना अता किया रब,
Satish Srijan
मुक्तक - वक़्त
मुक्तक - वक़्त
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
तू सहारा बन
तू सहारा बन
Bodhisatva kastooriya
ले चलो तुम हमको भी, सनम अपने साथ में
ले चलो तुम हमको भी, सनम अपने साथ में
gurudeenverma198
हसरतों के गांव में
हसरतों के गांव में
Harminder Kaur
दिनांक:-२३.०२.२३.
दिनांक:-२३.०२.२३.
Pankaj sharma Tarun
पापा मैं आप सी नही हो पाऊंगी
पापा मैं आप सी नही हो पाऊंगी
Anjana banda
गजब है उनकी सादगी
गजब है उनकी सादगी
sushil sarna
खूबसूरत है किसी की कहानी का मुख्य किरदार होना
खूबसूरत है किसी की कहानी का मुख्य किरदार होना
पूर्वार्थ
I know people around me a very much jealous to me but I am h
I know people around me a very much jealous to me but I am h
Ankita Patel
Loading...